28 C
Mumbai
Thursday, June 24, 2021

तमिलनाडु: मंदिर की चाबी देने से किया मना तो पुजारी ने दलित गार्ड से की मारपीट, मामला CCTV में कैद

चेन्नई. तिरुचेंदुर श्री सुब्रमण्यम स्वामी देवस्थानम मंदिर (Tiruchendur Sri Subrahmanya Swami Devasthanam temple) की सुरक्षा में लगे एक दलित (Dalit) गार्ड को पुजारी के गुस्से का सामना करना पड़ा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पुजारी ने गार्ड से चाबी मांगी थी, जिसे गार्ड ने नहीं माना. इस बात से नाराज पुजारी ने कथित तौर पर दलित के साथ हाथापाई कर दी. मामला सीसीटीवी (CCTV) में कैद हो गया है. हालांकि, इस मारपीट (Beating) को लेकर गार्ड ने अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं कराया है.

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक, गार्ड ने बगैर अधिकारियों की इजाजत के पुजारी को चाबी देने से इनकार कर दिया था. मारपीट करने वाले पुजारी का नाम जयमालिनी कुमार (Jaymalini Kumar) बताया जा रहा है. सीसीटीवी में कैद वीडियो में पुलिस के जवान और दो अन्य पुजारी भी नजर आ रहे हैं. वीडियो में दिख रहा है कि पुजारी और गार्ड के बीच काफी कहासुनी हो रही है और बात जब ज्यादा बिगड़ी तो जयमालिनी ने गार्ड को मारा और धक्का दे दिया.

Tamil Nadu temple priest hits Dalit security guard for denying to provide main gate keys without the permission of the concerned authorities. #Tiruchendur#DalitLivesMatterpic.twitter.com/vFZP8Uyf3Z

— Bharathi S. P. (@aadhirabharathi) November 1, 2020

गार्ड को नौकरी जाने का डरमीडिया में चल रही खबरों के अनुसार, कॉन्ट्रैक्ट पर नौकरी कर रहे गार्ड ने डर के कारण अभी तक मामले की शिकायत दर्ज नहीं कराई है. हालांकि, गार्ड की जगह विधुतलाई चिरुथईगल काछी, थूथुकुड़ी के जिला सचिव मुरासू तामीझप्पन (Murasu Thamizhappan) ने तिरुचेंदुर मंदिर पुलिस को शिकायत सौंपी है और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 की रोकथाम के तहत एफआईआर दर्ज करने की अपील की है.

पुजारी पर लगाए हैं धमकाने के आरोप

मुरासू ने अपनी शिकायत में पुजारी पर गार्ड को धमकाने के आरोप लगाए हैं. उन्होंने अपने शिकायत में कहा कि कुमार ने गार्ड को नौकरी से निकाले जाने की धमकी दी थी. उन्होंने लिखा कि पुजारी ने दलित के साथ मारपीट भी की थी. इन बातों पर विचार करते हुए एफआईआर दर्ज होनी चाहिए. अंग्रेजी वेबसाइट द न्यूज मिनट से बातचीत में मुरासू ने कहा ‘मैंने गार्ड से बात की थी. उसकी तीन बेटियां हैं, इस वजह से वजह से नौकरी जाने को लेकर डर हुआ है. वह इस मुद्दे पर कोई बात नहीं करना चाहता. ऐसे में मैंने पुलिस में शिकायत की है, लेकिन मुझे अभी तक एफआईआर की कॉपी नहीं दी गई है.’ उन्होंने बताया कि गार्ड ने कोरोना वायरस के चलते चाबी नहीं दी थी.

उन्होंने बताया कि वह इस मामले को लेकर शनिवार को तहसीलदार और सोमवार के कलेक्टल से मिलेंगे. उन्होंने कहा कि यह कृत्य पुजारी जातिवाद मानसिकता को दिखाता है. ‘ऐसे लोगों को मंदिर में पुजारी के तौर पर नियुक्त नहीं किया जाना चाहिए.’

Related Articles

कोरोना को केवल मुंबई ही नही बल्कि पूरे देश से जाना होगा : भाजपा नेता अमरजीत मिश्र

मुंबई। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी जिस साहस और मनोबल से कोरोना कोविड--19 की महामारी का मुकाबला कर रहे हैं उसकी...

राजावाडी अस्पताल में भर्ती मरीज को चूहों ने काटा

महापौर ने किया अस्पताल का दौरा मुंबई। मुंबई के प्रसिद्ध राजावाडी अस्पताल में भर्ती एक मरीज को रात में...

गोवंडी से 10 मुस्लिम अपराधी किए गए तड़ीपार

जनता में खुशी का माहौल मुंबई। शिवाजी नगर पुलिस की हद में बढ़ते अपराध को रोकने के लिए...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

कोरोना को केवल मुंबई ही नही बल्कि पूरे देश से जाना होगा : भाजपा नेता अमरजीत मिश्र

मुंबई। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी जिस साहस और मनोबल से कोरोना कोविड--19 की महामारी का मुकाबला कर रहे हैं उसकी...

राजावाडी अस्पताल में भर्ती मरीज को चूहों ने काटा

महापौर ने किया अस्पताल का दौरा मुंबई। मुंबई के प्रसिद्ध राजावाडी अस्पताल में भर्ती एक मरीज को रात में...

गोवंडी से 10 मुस्लिम अपराधी किए गए तड़ीपार

जनता में खुशी का माहौल मुंबई। शिवाजी नगर पुलिस की हद में बढ़ते अपराध को रोकने के लिए...

वर्षा ऋतु में वर्षा तिवारी ‘बिजुरी ‘के पहल पर मप्र के पटल पर हुआ 51 कलमकारगणो का रस बरसात

भोपाल। इतनी विकट परिस्थितियों में भी तन मन और धन से साहित्य की सेवा करने वाली साहित्यिक हिन्दी मासिक पत्रिका सामयिक परिवेश...