रायबरेली. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कई जिलों में जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद पुलिस बेहद चौकन्नी है. थोड़ा इनपुट मिलते ही फौरन पुलिस रेड मारकर अवैध शराब तस्करों पर नकेल कस रही है. आज रायबरेली में भी बछरावां पुलिस, स्वाट टीम और आबकारी टीम ने 15 अप्रैल को होने वाले पंचायत चुनाव में खपाने के लिए आई 20 लाख की अवैध शराब के साथ आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इनके कब्जे से 189 पेटी शराब बरामद की है.

हाल ही में प्रतापगढ़ जिले में अवैध जहरीली शराब से कई लोगों की मौत के बाद रायबरेली पुलिस विशेष सतर्कता बरत रही थी. पुलिस के अधिकारियों को इस बात की जानकारी बराबर मिल रही थी कि प्रथम चरण में जिले में होने वाले चुनाव में अवैध शराब बेचने के लिए शराब माफियाओं और प्रत्याशियों में डील हो चुकी है, जिसके बाद से पुलिस के अधिकारियों ने सभी थाने के प्रभारियों के पेंच कस दिए थे.

अयोध्या: हनुमानगढ़ी के महंत कन्हैया दास की हत्या का खुलासा, संपत्ति के लिए गुरु भाइयों ने दिया अंजाम

पुलिस के साथ स्वाट टीम और आबकारी टीम ने पाई सफलता

इसी क्रम में आज बछरावां पुलिस, स्वाट टीम और आबकारी टीम ने 189 पेटी अवैध कच्ची शराब के साथ 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान थाना शिवगढ़ के अहरवादीन गांव निवासी शैलेंद्र जायसवाल, बाराबंकी जिले के हैदरगढ़ थाना क्षेत्र के पूरे मितई वार्ड निवासी नवीन जायसवाल, अमेठी के शिवरतनगंज थाना क्षेत्र के बसंतपुर निवासी देशराज प्रजापति, बाराबंकी जिले के हैदरगढ़ थाना क्षेत्र के कुबरी निवासी विजय सिंह, रायबरेली के थाना शिवगढ़ के निवलापुल मजरे कुंभी निवासी माताफेर यादव निवासी और बाराबंकी के थाना हैदरगढ़ हेमा उर्फ लतीफ को गिरफ्तार कर जेल भेजा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here