29 C
Mumbai
Friday, July 23, 2021

मांझी के बाद सहनी ने बढ़ा दी NDA में टेंशन! लालू से बात पर बोले- इसे पर्दे में ही रहने दें

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में एनडीए की सरकार चल रही है. लेकिन, अंदरखाने से यही खबर निकलकर आ रही है कि अहम सहयोगी दल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी और विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी असंतुष्ट बताए जा रहे हैं. लालू प्रसाद यादव का शुक्रवार को जन्मदिन था. इस मौके पर जब के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने जीतनराम मांझी के घर पहुंचकर मुलाकात की और राजद सुप्रीमो से उनकी बात करवाई तो सियासी हलचल अचानक बढ़ गई. बताया जा रहा है कि लालू यादव और जीतन राम मांझी की 12 मिनट की सियासी गुफ्तगू हुई. अब खबर आ रही है कि मुकेश सहनी की भी लालू यादव से बात हुई है. उनसे जब इस बाबत मीडिया ने सवाल किया तो उन्होंने साफ लहजे में कहा कि इसे पर्दे में ही रहने दीजिए.

बिहार एनडीए में खींचतान के बारे में ऐसे समझा जा सकता है कि जीतन राम मांझी लगातार एनडीए की सबसे बड़ी सहयोगी दल भाजपा पर हमलावर रहते हैं. भाजपा नेताओं के बयानों पर वे  तुरंत प्रतिकार करते हैं और दलित और मुस्लिम एकीकरण की भी बात करते हैं. हाल में ही मांझी ने बांका मदरसा बम विस्फोट पर कहा था कि दलित पढ़े तो नक्सली, मुस्लिम मदरसे में पढ़े तो आतंकी, ये नहीं चलेगा.वही, मुकेश सहनी लगातार नीतीश कुमार को ही सधे अंदाज में निशाने पर लेते हैं. हाल में ही मुकेश सहनी ने मुख्यमंत्री को एक चिट्ठी लिखी. जिसमें उन्होंने सीएम से अपील की कि पहले टीकाकरण पर 4000 करोड़ रुपए खर्च होना अनुमानित था, लेकिन अब चूंकि प्रधानमंत्री ने बिहार को निशुल्क टीका उपलब्ध करवाने की घोषणा की है, ऐसे में जनप्रतिनिधियों को पूर्व की भांति ऐच्छिक कोष की धनराशि खर्च करने की शक्ति प्रदान की जाए. जिससे उनके क्षेत्र में रुके हुए विकास कार्य और चिकित्सीय सुविधा बेहतर हो सके.

सहनी ने उन्होंने लिखा कि मुख्यमंत्री का पहले फैसला सही था, लेकिन अब हालात बदले हैं इसलिए यह व्यवस्था भी बदलनी चाहिए. हालांकि NDA में घटक दलों की तकरार पर मुकेश सहनी ने कहा कि सब लोग मजबूती से NDA का हिस्सा हैं, और सरकार पूरे 5 साल चलेगी. जोड़ तोड़ का कहीं कोई इरादा नहीं है. मुकेश सहनी ने दिल्ली में लालू यादव से मुलाकात के सवाल पर कहा कि उनकी कोई मुलाकात नहीं हुई है और अभी इच्छा भी नहीं है. लेकिन लालू यादव आदरणीय हैं, बिहार के बड़े नेता हैं. कहीं मौका मिलेगा तो जरूर मिलेंगे.

हालांकि, मुकेश सहनी ने फोन पर लालू यादव से बात करने के सवाल पर चुप्पी साध ली और कहा कि इसे पर पर्दे में ही रहने दीजिए. इससे पहले जीतन राम मांझी की पार्टी HAM के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने सीधे-सीधे BJP नेताओं पर अपने बयानों से सरकार को अस्थिर करन का आरोप लगाते हुए, NDA कोआर्डिनेशन कमेटी बनाने तक की मांग कर डाली. दानिश रिज़वान ने यहां तक कहा कि एक तरफ ‘सबका साथ और सबका विकास’ का नारा और दूसरी तरफ तुष्टिकरण की राजनीति अब नहीं चलेगी.

Related Articles

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अमर नायक रहे लोकमान्य तिलक : प्रेम शुक्ल

मुंबई। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अमर नायक रहे। अंग्रेजो के खिलाफ उनका नारा–स्वराज्य मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है ,और...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अमर नायक रहे लोकमान्य तिलक : प्रेम शुक्ल

मुंबई। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के अमर नायक रहे। अंग्रेजो के खिलाफ उनका नारा–स्वराज्य मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है ,और...

अजीत पवार के जन्मदिन पर रक्तदान एवं चिकित्सा शिविर का आयोजन

मुंबई। महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार के जन्मदिन के उपलक्ष्य में राकांपा नेता एवं सांसद सुप्रिया सुले के निर्देश तथा महाराष्ट्र की...

गुरुपूर्णिमा पर राज ठाकरे से मिले वागीश सारस्वत 

मुंबई। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के महासचिव वागीश सारस्वत ने गुरुपूर्णिमा के अवसर पर मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे से उनके निवास कृष्णकुंज पर...