29 C
Mumbai
Friday, June 18, 2021

मध्य रेल ने किया विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन

मुंबई। मध्य रेल दिनांक पर दिनाँक 5.6.2021 को विश्व पर्यावरण दिवस आयोजित किया गया, इस वर्ष की थीम इकोसिस्टम रेस्टोरेशन (Ecosystem Restoration) है।

श्री आलोक कंसल, महाप्रबंधक, मध्य रेल, श्रीमती. तनुजा कंसल, अध्यक्षा, मध्य रेल महिला कल्याण संगठन, श्री ए के श्रीवास्तव, अपर महाप्रबंधक, मध्य रेल, अन्य प्रमुख विभागाध्यक्ष सहित श्री शलभ गोयल, मंडल रेल प्रबंधक, मुंबई मंडल ने लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर वृक्षारोपण किया. इस अवसर पर श्री रविप्रताप सिंह और श्री सुब्रमणि अय्यर, कार्यकारी निदेशक, भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) भी उपस्थित थे।

श्री आलोक कंसल ने मियावाकी वृक्षारोपण का निरीक्षण किया, जो एक तेजी से बढ़ती सघन वृक्षारोपण प्रणाली है, जिसमें प्रति वर्ग मीटर लगभग 3 से 4 पौधे लगाए जाते हैं। मध्य रेल ने पहली बार लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर 250 वर्ग मीटर क्षेत्र में सीएसआर के तहत मुंबई मंडल पर मियावाकी वृक्षारोपण की गतिविधि शुरू की है। कुल एक हजार पौधे रोपे गए। श्री कंसल ने मेसर्स बीपीसीएल अधिकारियों से वृक्षारोपण का प्रमाण पत्र भी प्राप्त किया।
उन्होंने ईएनएचएम, इलेक्ट्रिकल और अन्य विभागों के पर्यावरण सूचना स्टालों का दौरा किया, जिसमें रूफ टॉप सोलर पैनल, एलईडी लाइटिंग, रेन वाटर हार्वेस्टिंग यूनिट, वेस्ट वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, लंबी दूरी की ट्रेनों में बायो-टॉयलेट, प्लास्टिक की बोतल क्रशिंग के बारे में जानकारी प्रदर्शित की थी। पेराई मशीन आदि जिन्होंने ईंधन बिल बचाने, पर्यावरण की रक्षा और संरक्षण में जबरदस्त सुधार किया है। श्री कंसल ने एलटीटी स्टेशन पर हरितपहलों, स्टालों और मियावाकी वृक्षारोपण के लिए प्रत्येक के लिए 25,000 रुपये के पुरस्कार की घोषणा की।

श्री कंसल ने लोकमान्य तिलक टर्मिनस पर सेल्फ प्रोपेल्ड इंस्पेक्शन कार (एसपीआईसी) का भी निरीक्षण किया। SPIC का उपयोग पटरियों, सिग्नल, बिजली के उपकरणों आदि के आपातकालीन निरीक्षण ,यातायात बहाली के लिए रेलवे स्थलों तक पहुंचने के लिए भी किया जाएगा। श्री कंसल ने भायखला स्टेशन पर चल रहे विरासत जीर्णोद्धार कार्य का भी निरीक्षण किया और अधिकारियों को इसमें तेजी से काम पूर्ण करने के निर्देश दिए।

इस वर्ष की थीम Ecosystem Restoration के साथ, मध्य रेल ने पर्यावरण के संरक्षण की दिशा में कई कदम उठाए हैं। पिछले चार वर्षों में मध्य रेल ने रेलवे की भूमि पर विभिन्न प्रकार के 18 लाख से अधिक पौधे लगाने का कार्य शुरू किया है। छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, मुंबई में दुर्लभ जड़ी-बूटियों के 120 पौधों के साथ एक हर्बल गार्डन स्थापित किया गया है। मध्य रेल पर 15 नर्सरी पहले ही स्थापित और विकसित की जा चुकी हैं। 87 इको-स्मार्ट स्टेशन, वाडी बंदर, मुंबई में स्वचालित कोच वाशिंग प्लांट, 133 स्टेशनों पर वर्षा जल संचयन इकाइयां, 5 भवनों का आईजीबीसी ग्रीन प्रमाणीकरण आदि मध्य रेल द्वारा पिछले कुछ वर्षों में हरित पर्यावरण की दिशा में कुछ अन्य पहल और उपलब्धियां हैं।

Related Articles

मालाड के दुर्गम क्षेत्रों में शुरू हुआ टीकाकरण अभियान

मुंबई। उत्तर मुंबई के मालाड क्षेत्र के समुद्री किनारे पर बसी बड़ी आबादी के लिए स्थानीय सांसद गोपाल शेट्टी के अथक प्रयासों...

टैक्स को लेकर पीएमसी के तुगलकी फरमान का विरोध

वेबीनार का हुआ आयोजन मुंबई। मुंबई व महाराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर जैसे ही थोड़ी ठंडी पड़ी, वैसे...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

मालाड के दुर्गम क्षेत्रों में शुरू हुआ टीकाकरण अभियान

मुंबई। उत्तर मुंबई के मालाड क्षेत्र के समुद्री किनारे पर बसी बड़ी आबादी के लिए स्थानीय सांसद गोपाल शेट्टी के अथक प्रयासों...

टैक्स को लेकर पीएमसी के तुगलकी फरमान का विरोध

वेबीनार का हुआ आयोजन मुंबई। मुंबई व महाराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर जैसे ही थोड़ी ठंडी पड़ी, वैसे...

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के जन्मदिन पर कृपाशंकर सिंह ने दी बधाई

मुंबई। महाराष्ट्र के राज्यपाल तथा उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी के जन्मदिन पर महाराष्ट्र के पूर्व गृह राज्यमंत्री कृपाशंकर सिंह...

भारी बारिश से कुर्ला टर्मिनस की सड़को की खस्ताहाल

मुंबई। लगातार हो रही बारिश से कुर्ला टर्मिनस की सड़कों की हालत दयनीय हो गई है। कुर्ला (पूर्व) पूर्व स्थित रेलवे कॉलोनी,...