29 C
Mumbai
Friday, July 30, 2021

दहेज के लिये पति ने पत्नी को मार पीट कर घर से निकाला

मुंबई। इंसान छोटा हो या बड़ा परंतु जब उसमें इंसानियत खत्म हो जाती है तब वह इंसान कहलाने के लायक नही रह जाता है। ऐसी ही घटना मुलुंड स्थित नवघर पुलिस स्टेशन के अंतरगत घटी है। जिसकी शिकार 29 वर्षीय महिला पूनम गुप्ता हुई है। उल्लेखनीय है कि 2012 में सांताक्रुज की रहने वाली पूनम राजेन्द्र कांडू की शादी बड़ी धूमधाम से मुलुंड निवासी बच्चूलाल गुप्ता के सुपुत्र संतोष गुप्ता के साथ हुई थी। शादी के चंद महीनों बाद दहेज को लेकर पूनम से मार पीट करना शुरू कर दिया।और संतोष गुप्ता के बोलने पर मैं अपने पिता राजेन्द्र कांडू से लाख पचास हजार करके लगभग 5 लाख रुपया लाकर दिया भी। फिर इन लोगो की भूख नही मिटी। 

आलम यह हुआ कि पूनम उनके आतंक से भयभीत होकर अपने माँ बाप के घर चली आई। पूनम ने बताया कि आये दिन कोई ना कोई बहाना बनाकर मुझे संतोष के पूरे परिवार के लोग सताना शुरू कर दिया और मुझसे दिन भर काम करवाने के बाद भी कुछ भी खाने पीने को नही देते थे। नवघर थाने में मैं शिकायत दर्ज कराई वहाँ भी मुझे न्याय नही मिला। और महिला पुलिस जबरन घसीटते हुए मुझे घर से बाहर निकाला और थाने लाई । पुलिस वाले भी संतोष गुप्ता का ही पक्ष लेते थे। फिर थक हार कर मैं न्यायालय की शरण मे गई फैसला मेरे पक्ष में आया कोर्ट के सामने संतोष ने नही सताने की शर्त पर घर लाया और फिर से मारना पीटना शुरू कर दिया।

भत्ता गुजारा का भी मामला कोर्ट में चला जहाँ दस हजार रुपया मासिक देना तय हुआ। संतोष गुप्ता उससे भी मुकर गया। और उसका मरना पीटना बन्द नही हुआ।आखिर मैं लाचार मजबूर होकर अपने माँ बाप के घर अपने छोटे छोटे बच्चों को लेकर सांताक्रुज चली आई। अब मैं शासन प्रशासन  मुख्यमंत्री श्री उद्धव ठाकरे साहब से अपील करती हूँ कि हमारे और हमारे छोटे छोटे बच्चों पर तरस खाते हुये मेरी रक्षा करें। पूनम गुप्ता ने अंत मे यहाँ तक कहा कि मैं सब कुछ अभी भी भूलने के लिए तैयार हूँ। कि वे लोग हमारे साथ अच्छे तौर तरीकों से पेश आये। और मैं जाने को भी तैयार हूँ।

पूनम के पिता ने बताया कि अब संतोष गुप्ता को देने के लिए मेरे पास कुछ शेष नही बचा है शादी से लेकर अब तक जो भी मेरे पास था सब दे चुका हूँ। और मैं सरकार से व प्रशासन से हाथ जोड़कर प्रार्थना करता हूँ मेरी बेटी की जिंदगी उजड़ने से बचा लीजिये। और छोटे छोटे बच्चों के ऊपर दया कीजिये। फिलहाल मामला बांद्रा न्यायालय के अधीन है। और धारा 498 (A),406,323,506,504,34 के तहत चल रहा है।

और इन्हीं धाराओ के अंतरगत एफ आई आर नवघर पुलिस स्टेशन मुलुंड में दर्ज भी है। अर्थात तमाम प्रकार की पूनम गुप्ता को प्रताड़ना देने के बाद भी संतोष गुप्ता को रहम नही आई और पूनम से उसके दिल के टुकड़े दोनों बच्चो को छीन लिया है। और पूनम बिन बच्चे अपने माँ बाप के पास विगत कई महीनों से रह रही है। और बच्चो के लिए तड़प रही है।

Related Articles

सुपरस्टार गुंजन सिंह की “9 एम एम पिस्टल” का टाइटल गाना हुआ रिलीज वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स से

सुपरस्टार गुंजन सिंह की बहुचर्चित फिल्म "9 एम एम पिस्टल" का धमाकेदार विडियो सांग वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स भोजपुरी से रिलीज होते ही बवाल...

सामयिक परिवेश पत्रिका की कवि गोष्ठी गहमागहमी के साथ संपन्न

By:Rananjay Singh पटना । आज हर किसी की जुबान पर छाये "सामयिक परिवेश पत्रिका" की मासिक कवि गोष्ठी सह...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

सुपरस्टार गुंजन सिंह की “9 एम एम पिस्टल” का टाइटल गाना हुआ रिलीज वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स से

सुपरस्टार गुंजन सिंह की बहुचर्चित फिल्म "9 एम एम पिस्टल" का धमाकेदार विडियो सांग वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स भोजपुरी से रिलीज होते ही बवाल...

सामयिक परिवेश पत्रिका की कवि गोष्ठी गहमागहमी के साथ संपन्न

By:Rananjay Singh पटना । आज हर किसी की जुबान पर छाये "सामयिक परिवेश पत्रिका" की मासिक कवि गोष्ठी सह...

कर्नाटक में 5 उपमुख्यमंत्री बनाने की तैयारी में बीजेपी, कैबिनेट में भी युवाओं पर भरोसा

बेंगलुरू।कर्नाटक में 2023 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। उससे ठीक पहले सत्तारूढ भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने सरकार में बड़े बदलाव...