25 C
Mumbai
Sunday, December 5, 2021

'दीदी को लाओ भारत बचाओ…', तमिलनाडु के बाद वाम सत्ता वाले केरल में लगे ममता बनर्जी के पोस्टर

(कमालिका सेनगुप्ता)

तिरुवनंतपुरम. तमिलनाडु (Tamil Nadu) के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी केरल (Kerala) में लगे पोस्टर्स पर नजर आई हैं. खास बात यह है कि इन चित्रों पर एक नारा लिखा हुआ है, जिसमें ‘दीदी को चुनने और देश बचाने’ की बात लिखी हुई है. इसी तरह के पोस्टर 70 के दशक में पूर्व पीएम इंदिरा गांधी के लिए भी लगे थे. वाम सत्ता वाले राज्य में सीएम बनर्जी के पोस्टर लगना नया सियासी दृश्य दिखा रहा है, क्योंकि वे वामपंथ विचारधारा की बड़ी विरोधी हैं. साथ ही उन्होंने बंगाल से 34 साल पुराने लाल शासन को बाहर कर तृणमूल कांग्रेस को सत्ता दिलाई थी.

केरल के एक वरिष्ठ पत्रकार ने सीएनएन-न्यूज18 से बातचीत में कहा, ‘इसी तरह के पोस्टर 1970 में आए थे. तब नारा था ‘इंदिरा को लाओ भारत बचाओ, चलो दिल्ली.” सीएम बनर्जी के पोस्टर पर भी लिखा हुआ है ‘दीदी को लाओ भारत बचाओ, दिल्ली चलो.’ दक्षिण भारत में टीएमसी का कोई भी संगठनात्मक आधार नहीं है. ऐसे में इसे क्षेत्र में बनर्जी के बढ़ते प्रभाव के रूप में देखा जा रहा है.

बनर्जी की पार्टी ने भी इस विकास को अच्छी भावना से लिया है. पार्टी ने कहा है कि यह दिखाता है कि केंद्र में बीजेपी का सामना करने के लिए बंगाल की नेता को एक राष्ट्रीय स्तर के विकल्प के रूप में देखा जा रहा है. पार्टी के राज्यसभा सांसद शुखेंदु शेखर रॉय ने कहा, ‘अब टीएमसी वाकई रष्ट्रीय स्तर पर बढ़ना चाहती है और इस तरह का समर्थन हमें बढ़ाएगा.’ उन्होंने कहा कि बनर्जी को ‘आम आदमी और लोकतांत्रिक संस्थाओं के रक्षक के रूप में स्वीकार किया जा रहा है.’

यह भी पढ़ें: राजनीति में एजेंडा सेट करना महत्वपूर्ण, हमें बताना होगा कि बाकी दलों से कैसे अलग हैं?: जेपी नड्डा

उन्होंने कहा, ‘जरूरी चीजों की बढ़ती कीमतें, अभूतपूर्व बेरोजगारी, टीकाकरण कार्यक्रम और ऑक्सीजन सप्लाई में असफलता, बैंक, इंश्योरेंस, तेल और खदानों, एयरपोर्ट और एयर इंडिया, बंदरगाहों और इनकी देशभर की बड़ी जमीन, 400 रेल स्टेशन और सैकड़ों रेल मार्ग, 28 पीएसयू, 15 ऑर्डिनेंस फैक्ट्री आदि की पूंजिपतियों को बेचे जाने ने आम आदमी और हमारी युवा पीढ़ी को दयनीय बना दिया है.’ उन्होंने कहा, ‘इनमें से कई तो इंसानी गरिमा के साथ कुछ बोल भी नहीं सकते. यह मौलिक अधिकार भारत के संविधा के अनुच्छेद 21 की तरफ से हर भारतीय को मिला है.’

वहीं, भारतीय जनता पार्टी का कहना है, ‘टीएमसी के ये सपने कभी पूरे नहीं होंगे, क्योंकि ममता कभी हमारी प्रधानमंत्री नहीं बनेंगी.’ इधर, पश्चिम बंगाल में टीएमसी के बड़े प्रतिद्विंदी वाम दलों की तरफ से भी बदलाव देखा गया है. पार्टी नोट से लेकर सीपीआई-एम के नेताओं के भाषण तक वाम दलों ने यह जताया है कि वे बीजेपी को राष्ट्रीय स्तर पर रोकने के लिए बनर्जी का समर्थन कर सकते हैं. यह देखने दिलचस्प होगा कि कैसे बनर्जी और उनकी पार्टी इस नए मैदान का फायदा उठाती हैं.

Related Articles

75 वर्षीय बृद्धा का हत्यारा नातू गिरफ्तार

7 साल बाद पुलिस ने जाल में फंसाया मुंबई। पवई पुलिस की हद में 7 साल पहले हुई एक...

जीकेसी पटना जिला युवा प्रकोष्ठ ने मनायी डा. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती

पटना। ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) पटना जिला युवा प्रकोष्ठ ने भारत के प्रथम राष्ट्रपति देशरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती हर्षोल्लास...

इमेजिका वेलफेयर फाउंडेशन के सौजन्य से विभूतियों को मिला डॉ राजेंद्र प्रसाद स्मृति सम्मान

पटना। इमेजिका वेलफेयर फाउंडेशन के सौजन्य भारत रत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती के अवसर पर डॉ राजेंद्र प्रसाद स्मृति सम्मान समारोह...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

75 वर्षीय बृद्धा का हत्यारा नातू गिरफ्तार

7 साल बाद पुलिस ने जाल में फंसाया मुंबई। पवई पुलिस की हद में 7 साल पहले हुई एक...

जीकेसी पटना जिला युवा प्रकोष्ठ ने मनायी डा. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती

पटना। ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) पटना जिला युवा प्रकोष्ठ ने भारत के प्रथम राष्ट्रपति देशरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती हर्षोल्लास...

इमेजिका वेलफेयर फाउंडेशन के सौजन्य से विभूतियों को मिला डॉ राजेंद्र प्रसाद स्मृति सम्मान

पटना। इमेजिका वेलफेयर फाउंडेशन के सौजन्य भारत रत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती के अवसर पर डॉ राजेंद्र प्रसाद स्मृति सम्मान समारोह...

घाटकोपर में क्लीनअप मार्शल द्वारा गांधीगिरी, बिना मास्क के चलने वालों को मास्क व गुलाब देकर किया जनजागरूक

 मुंबई:घाटकोपर: विनामास्क के नागरिकों और सफाई कर्मियों के बीच विवाद अक्सर सामने आते रहे हैं। लेकिन आज घाटकोपर क्षेत्र में सफाई कर्मी...

ट्राम्बे के जाने माने समाजसेवक शब्बीर खान की घर वापसी

भाई जगताप और शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ की मौजूदगी में हुए कांग्रेस में शामिल मुंबई: आने वाले समय में...