27 C
Mumbai
Friday, September 17, 2021

Covid-19: केरल में लगातार क्यों बढ़ रहा है कोरोना संक्रमण? क्या कहते हैं एक्सपर्ट

नई दिल्ली. आपको याद होगा पिछले साल कोरोना की पहली लहर के दौरान केरल मॉडल के उदाहरण दिए जा रहे थे. कोरोना के संक्रमण (Covid-19 Kerala) पर लगाम लगाने के लिए राज्य सरकार की हर तरफ तारीफ हो रही थी. लेकिन इस वक्त केरल के हालात बिगड़ गए हैं. हर रोज़ यहां हज़ारों की संख्या में कोरोना के मरीज़ सामने आ रहे हैं. पिछले दो दिनों से यहां लगातार 30 हज़ार से ज्यादा केस सामने आए हैं. आंकड़ों पर नजर डालें तो देश भर से करीब 68 फीसदी नए केस केरल से ही आ रहे हैं. कई ज़िलों में पॉजिटिविटी रेट 20 फीसदी से ज्यादा हैं. इस वक्त एक लाख से ज्यादा मरीज़ अस्पतालों में भर्ती हैं. कुल मिलाकर केरल के हालात इस वक्त डरावने हैं. सवाल उठता है कि आखिर केरल में ही क्यों कोरोना के ज्यादा केस आ रहे हैं?

हेल्थ एक्सपर्ट के मुताबिक केरल में कोरोना संक्रमण बढ़ने के पीछे कई वजह हैं. मसलन वहां कितने लोगों ने वैक्सीन ली है, क्या लोग कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं? लोग कहां की यात्रा कर रहे हैं. फिलहाल एक्सपर्ट्स का कहना है इन तमाम फैक्टर्स पर केरल के मौजूदा हालात को देखने की जरूरत है.

मौसम का फैक्टर

केरल में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के वाइस चेयरमैन (रिसर्च ) डॉक्टर राजीव जयदेवन ने अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया, ‘वायरस के ड्रॉपलेट्स हवा में कितनी देर रहते हैं ये वहां के मौसम पर भी निर्भर करता है. हो सकता है कि केरल के मौसम के चलते ऐसा हो रहा हो कि वायरस लंबे समय तक रह रहे हों. हमें ये ध्यान में रखना होगा कि कोरोना फैलने के पीछे कोई एक वजह नहीं है. इसमें कई सारे फैक्टर हैं.’

ये भी पढ़ें:- Punjab: सिद्धू के सलाहकार मालविंदर माली का इस्तीफा, कहा- मेरी जान को खतरा, कुछ हुआ तो अमरिंदर जिम्मेदार

नियमों का नहीं हो रहा है पालन

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान मई के मध्य में केरल से हर रोज़ करीब 40 हज़ार नए केस आ रहे थे. उन दिनों यहां पॉजिटिविटी रेट 28 फीसदी के आसपास थी. अब ओणम के बाद से हर रोज़ 30 हज़ार से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं. कई ज़िलों में पॉजिटिविटी रेट 20 परसेंट से ज्यादा है. यानी हर सौ में से 20 लोग कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं. केरल सरकार चिकित्सा अधिकारी संघ के अध्यक्ष डॉ. जीएस विजयकृष्णन ने कहा, ‘काफी बड़ी संख्या में लोगों पर वायरस का खतरा मंडरा रहा है. लोगों को कोरोना प्रोटोकाल को फॉलो करने की जरूरत है.’

लगातार बढ़ रहे हैं केस

केरल में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के 30,007 नए मामले सामने आने के साथ ही कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर प्रदेश में 39.13 लाख हो गई. जबकि 162 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की तादाद 20,134 पर पहुंच गई.

Related Articles

माहिम बीच का बदला नजारा

मुंबई। मुंबई के ऐतिहासिक भूमि और मछुआरों का गढ़ माहिम के बीच (समुन्द्र तटीय क्षेत्र) को अब पर्यटन की दृष्टि से बेहतरीन...

‘लिपस्टिक का Color चेंज किजिए’ में दिखेगा नीलकमल सिंह और प्रगति भट्ट का जलवा

हो जाईये तैयार आ रहा है भोजपुरी इंडस्ट्री के बवाल सिंगर नीलकमल सिंह और सुपर सिंगर प्रियंका सिंह की आवाज में नया...

घाटकोपर पूर्व के श्री विघ्नेश्वर मित्र मंडल के गणेशोत्सव का रजत जयंती वर्ष

मुंबई। घाटकोपर पूर्व के राजावाडी स्थित श्री विघ्नेश्वर मित्र मंडल के गणेशोत्सव का इस बार २५वा वर्ष है। जिसके कारण रजत जयंती...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

माहिम बीच का बदला नजारा

मुंबई। मुंबई के ऐतिहासिक भूमि और मछुआरों का गढ़ माहिम के बीच (समुन्द्र तटीय क्षेत्र) को अब पर्यटन की दृष्टि से बेहतरीन...

‘लिपस्टिक का Color चेंज किजिए’ में दिखेगा नीलकमल सिंह और प्रगति भट्ट का जलवा

हो जाईये तैयार आ रहा है भोजपुरी इंडस्ट्री के बवाल सिंगर नीलकमल सिंह और सुपर सिंगर प्रियंका सिंह की आवाज में नया...

घाटकोपर पूर्व के श्री विघ्नेश्वर मित्र मंडल के गणेशोत्सव का रजत जयंती वर्ष

मुंबई। घाटकोपर पूर्व के राजावाडी स्थित श्री विघ्नेश्वर मित्र मंडल के गणेशोत्सव का इस बार २५वा वर्ष है। जिसके कारण रजत जयंती...

मध्य रेल पर स्वच्छता शपथ के साथ स्वच्छता पखवाड़ा-2021 शुरू

मुंबई। श्री अनिल कुमार लाहोटी, महाप्रबंधक, मध्य रेल ने दिनांक 16.9.2021 को पुणे मंडल के निरीक्षण के दौरान मिरज रेलवे स्टेशन पर...

साकीनाका में बलात्कार ओर हत्या के बाद लड़कियों की सुरक्षा को लेकर अभिभावकों में चिंता

मुंबई। महिलाओं की सुरक्षा की दृष्टि से देश की आर्थिक राजधानी मुंबई को काफी सुरक्षित माना जाता है लेकिन पिछले दिनों साकीनाका...