27 C
Mumbai
Wednesday, October 20, 2021

कोरोना पर ज्यादा कारगर है कोवैक्‍सिन और कोविशील्‍ड की मिक्‍स डोज? जानें विशेषज्ञों की राय

नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) से बचाव के लिए दुनिया भर में बड़े स्‍तर पर टीकाकरण अभियान (Corona Vaccination) चल रहा है. इसमें कोरोना वैक्‍सीन की दो डोज (Vaccine Mix Dose) लगाई जा रही हैं. साथ ही दुनिया भर में मिक्‍स डोज को लेकर भी शोध किए जा रहे हैं. मतलब दो अलग-अलग वैक्‍सीन की दो खुराक लोगों को देने लेकर रिसर्च किए जा रहे हैं. इस बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) और पुणे के नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) ने इस संबंध में खास शोध किया है. इसमें दावा किया गया है कि कोविशील्‍ड और कोवैक्सिन की मिक्‍स डोज से लोगों को ज्यादा फायदा मिल रहा है. इसका असर एक ही वैक्‍सीन की दो डोज से कहीं ज्यादा होता है.

18 लोगों पर किए गए इस शोध की अभी पूर्ण समीक्षा बाकी है. इस शोध में उन लोगों की इम्‍युनिटी पावर और सुरक्षा को लेकर भी जांच हुई, जो कोविशील्‍ड या कोवैक्सिन की लगवा चुके हैं. शोध में इस बात का भी पता चला कि कोविशील्‍ड और कोवैक्सिन की मिक्‍स डोज लगवाना न सिर्फ सुरक्षित है बल्कि इससे इम्‍युनिटी भी कहीं अधिक बढ़ती है.

ये कैसे काम करती है?

कुछ वैज्ञानिकों का कहना है कि टीकों को मिलाने से कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई मजबूत हो सकती है क्योंकि अलग-अलग टीकों की डोज मिलाकर कोविड-19 के खिलाफ अधिक शक्तिशाली प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया का उत्पादन होता है. एक वरिष्ठ वैक्सीनोलॉजिस्ट डॉ चंद्रकांत लहरिया ने एक मीडिया रिपोर्ट में बताया है कि कोविशील्ड जैसे वायरल वेक्टर टीकों के मामले में टीकों को मिलाना अधिक फायदेमंद साबित हो सकता है. डॉ. लहरिया ने समझाया कि इस तरह के टीकों की प्रभावशीलता लगातार डोज में काफी कम हो जाती है क्योंकि शरीर टीके द्वारा इस्तेमाल किए गए एडेनोवायरस के खिलाफ भी एंटीबॉडी विकसित करना शुरू कर देता है.

दुनिया भर में सामने आए कोरोना वायरस के नए वेरिएंट के बीच वैज्ञानिकों ने इस बात पर प्रकाश डाला है कि टीकों को मिलाने से वायरस के विभिन्न उत्परिवर्तन के खिलाफ बेहतर स्‍तर की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया विकसित हो सकती है. कुछ विशेषज्ञों ने यह भी सुझाव दिया है कि टीकों का मिश्रण वैक्‍सीन की कमी से लड़ने में फायदेमंद होगा क्योंकि मिश्रण से इसकी उपलब्धता बढ़ेगी.

क्‍या कहते हैं भारतीय विशेषज्ञ?

नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने कहा था कि वैक्सीन को मिलाना संभव है लेकिन अभी और अध्ययन की जरूरत है. उन्‍होंने कहा था , ‘यह (वैक्सीन मिश्रण) प्रशंसनीय है. लेकिन अभी और अध्ययन करने की जरूरत है. हमारे विशेषज्ञ भी लगातार अध्ययन कर रहे हैं. वैज्ञानिक रूप से, कोई समस्या नहीं है.’

एम्स के प्रमुख डॉ. रणदीप गुलेरिया इस कदम से सहमत हैं लेकिन कुछ आपत्तियां हैं. उन्होंने कहा कि कोविड के टीकों को मिलाना एक निश्चित संभावना है, लेकिन निर्णय लेने से पहले अधिक जानकारी की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि हालांकि हम नहीं जानते कि इस समय कौन सा संयोजन बेहतर है, लेकिन प्रारंभिक अध्ययनों से पता चलता है कि यह एक विकल्प हो सकता है.

वैश्विक नजरिया

दो कोविड -19 टीकों को मिलाना कोई नई बात नहीं है. जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल को एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड वैक्सीन से टीका लगने के बाद दूसरी डोज के रूप में मॉडर्ना वैक्सीन लगाई गई. टीकाकरण पर जर्मन स्थायी समिति (एसटीआईकेओ) ने उन लोगों को भी सलाह दी, जिन्होंने एस्ट्राजेनेका टीका अपने पहले शॉट के रूप में लगवाया और जो दूसरी डोज के रूप में मॉडर्ना का टीका लेना चाह रहे हैं. कनाडा में भी मिक्‍स वैक्‍सीन का सुझाव दिया जा चुका है.

Related Articles

कामराज नगर में पुनः झोपडा माफिया हुए सक्रिय

सरकारी जमीन पर रोज बनते है दर्जनों झोपड़े, सदाम मामू है झोपडा माफियाओ का सरगना मुंबई। घाटकोपर मनपा एन...

गोवंडी की झोपड़पट्टियो में अधिकांश संख्या में सीसीटीवी खराब या बंद होने से पुलिस की दिक्कतें बढ़ी

मुंबई। गोवंडी शिवाजीनगर विधानसभा की अनेक झोपड़पट्टियों में कुछ दिनों से सीसीटीवी कैमरे अधिकांश संख्या में बंद होने से रफीक नगर में...

वाडिया अस्पताल में निःशुल्क स्कोलियोसिस शिविर

मुंबई। बाई जेरबाई वाडिया अस्पताल में बच्चों की हड्डीओं की जाचं कराने के लिए दो दिवसीय चिकित्सा शिबीर का आयोजन किया गया।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

कामराज नगर में पुनः झोपडा माफिया हुए सक्रिय

सरकारी जमीन पर रोज बनते है दर्जनों झोपड़े, सदाम मामू है झोपडा माफियाओ का सरगना मुंबई। घाटकोपर मनपा एन...

गोवंडी की झोपड़पट्टियो में अधिकांश संख्या में सीसीटीवी खराब या बंद होने से पुलिस की दिक्कतें बढ़ी

मुंबई। गोवंडी शिवाजीनगर विधानसभा की अनेक झोपड़पट्टियों में कुछ दिनों से सीसीटीवी कैमरे अधिकांश संख्या में बंद होने से रफीक नगर में...

वाडिया अस्पताल में निःशुल्क स्कोलियोसिस शिविर

मुंबई। बाई जेरबाई वाडिया अस्पताल में बच्चों की हड्डीओं की जाचं कराने के लिए दो दिवसीय चिकित्सा शिबीर का आयोजन किया गया।...

बांग्लादेश में हिंदुओं पर हो रहे हमले को रूकवाने की पहल करें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

मुंबई। पिछले दो दिनों से बांग्लादेश में हिंदू मंदिरों और दुर्गा पंडालों में हमले हो रहे हैं। वहां की स्थिति  यह हो...

मुंबई उपनगरीय ताइक्वांडो चैम्पियनशिप 2021 का सफलतापूर्व  आयोजन

मुंबई। 20वीं मुंबई उपनगरीय ताइक्वांडो जिला स्तरीय प्रतियोगिता गत 15,16,17 अक्टूबर 2021 को धारावी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में आयोजित की गई थी।  प्रतियोगिता...