29 C
Mumbai
Friday, October 22, 2021

अब राज्य और केंद्रशासित प्रदेश बना सकेंगे अपनी OBC लिस्ट, लोकसभा ने बिल को दी मंजूरी

नई दिल्ली. राज्यों को अपनी ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) लिस्ट बनाने का अधिकार वापस देने वाले संविधान संशोधन विधेयक को मंगलवार को लोकसभा से मंजूरी मिल गई. समूचे सदन ने इसके पक्ष में वोट किया. लोकसभा में पक्ष-विपक्ष सभी ने इसके समर्थन में वोट किया.

लोकसभा में सरकार ने सोमवार को अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से संबंधित ‘संविधान (127वां संशोधन) विधेयक, 2021’ पेश किया था, जो राज्य सरकार और संघ राज्य क्षेत्र को सामाजिक तथा शैक्षणिक दृष्टि से पिछड़े वर्गों की स्वयं की राज्य सूची/संघ राज्य क्षेत्र सूची तैयार करने के लिए सशक्त बनाता है. निचले सदन में सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री डॉ वीरेंद्र कुमार ने अन्य पिछड़ा वर्ग से संबंधित ‘संविधान (127वां संशोधन) विधेयक, 2021’ पेश किया था.

उज्ज्वला योजना 2.0 में 1 करोड़ परिवारों को मिलेगा मुफ्त LPG कनेक्‍शन, जानें कैसे उठाएं फायदा

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने 5 मई के बहुमत आधारित फैसले की समीक्षा करने की केंद्र की याचिका को खारिज कर दिया था जिसमें यह कहा गया था कि 102वां संविधान संशोधन नौकरियों एवं दाखिले में सामाजिक एवं शैक्षणिक रूप से पिछड़े (एसईबीसी) को आरक्षण देने के राज्य के अधिकार को ले लेता है.

अब LPG कनेक्‍शन लेना हुआ बहुत आसान, सिर्फ एक नंबर पर करनी होगी कॉल, जानें पूरी प्रक्रिया

विधेयक के उद्देश्यों एवं कारणों में कहा गया है कि संविधान 102वां अधिनियम 2018 को पारित करते समय विधायी आशय यह था कि यह सामाजिक और शैक्षणिक दृष्टि से पिछड़े वर्गों की केंद्रीय सूची से संबंधित है। यह इस तथ्य को मान्यता देता है कि 1993 में सामाजिक एवं शैक्षणिक दृष्टि से पिछड़े वर्गो की स्वयं की केंद्रीय सूची की घोषणा से भी पूर्व कई राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों की अन्य पिछड़े वर्गों की अपनी राज्य सूची/ संघ राज्य क्षेत्र सूची हैं.

इसमें कहा गया है, ‘यह विधेयक पर्याप्त रूप से यह स्पष्ट करने के लिये है कि राज्य सरकार और संघ राज्य क्षेत्र को सामाजिक और शैक्षणिक दृष्टि से पिछड़े वर्गो की स्वयं की राज्य सूची/संघ राज्य क्षेत्र सूची तैयार करने और उसे बनाये रखने को सशक्त बनाता है.’ विधेयक के उद्देश्यों में कहा गया है कि देश की संघीय संरचना को बनाए रखने के दृष्टिकोण से संविधान के अनुच्छेद 342क का संशोधन करने और अनुच्छेद 338ख एवं अनुच्छेद 366 में संशोधन करने की आवश्यकता है. यह विधेयक उपरोक्त उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिये है.

Related Articles

लखनऊ में हुआ “मैं कलाकार हूं” का प्रीमियर शो, चन्द्रभाष सिंह और धर्मेन्द्र कुमार ने की नई पहल

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हिंदी शॉर्ट मूवी "मैं कलाकार हूं"का प्रीमियर किया गया। इस शॉर्ट मूवी का निर्माण "विजय बेला...

‘पियवा किसनवा’ ने एक दिन में हासिल किए 1 मिलियन से ज्यादा व्यूज, चला सबा खान का जलवा

भोजपुरी सिनेमा में अपनी गायकी के दम पर अपनी पहचान बना चुकी शिल्पी राज के फॉलोअर्स करोड़ों की संख्या में हैं। शिल्पी...

पैरावेटनरी वर्कर संघ के प्रतिनिधिमंडल ने दिया 45000 रूपए का आर्थिक सहयोग

महाराजगंज। जनपद महाराजगंज दिनांक 20 दस 2021 पैरा वेटरनरी वर्कर संघ उत्तर प्रदेश का एक प्रतिनिधिमंडल स्वर्गीय श्री सीताराम चौधरी (पैरावेट) पशु...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

लखनऊ में हुआ “मैं कलाकार हूं” का प्रीमियर शो, चन्द्रभाष सिंह और धर्मेन्द्र कुमार ने की नई पहल

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हिंदी शॉर्ट मूवी "मैं कलाकार हूं"का प्रीमियर किया गया। इस शॉर्ट मूवी का निर्माण "विजय बेला...

‘पियवा किसनवा’ ने एक दिन में हासिल किए 1 मिलियन से ज्यादा व्यूज, चला सबा खान का जलवा

भोजपुरी सिनेमा में अपनी गायकी के दम पर अपनी पहचान बना चुकी शिल्पी राज के फॉलोअर्स करोड़ों की संख्या में हैं। शिल्पी...

पैरावेटनरी वर्कर संघ के प्रतिनिधिमंडल ने दिया 45000 रूपए का आर्थिक सहयोग

महाराजगंज। जनपद महाराजगंज दिनांक 20 दस 2021 पैरा वेटरनरी वर्कर संघ उत्तर प्रदेश का एक प्रतिनिधिमंडल स्वर्गीय श्री सीताराम चौधरी (पैरावेट) पशु...

भावुक करने वाली है यश कुमार की फिल्‍म ‘बिटिया छठी माई के 2’ का ट्रेलर

कथा प्रधान फिल्‍मों को लेकर आने वाले यूनिक एक्‍शन स्‍टार यश कुमार की फिल्‍म ‘बिटिया छठी माई के 2’ का ट्रेलर रिलीज...

बड़ी खबर: मुंबई में फैली दहशत, 60 मंजिला इमारत में भीषण आग… तेजी से फैलती जा रही

मुंबई। महाराष्ट्र स्थित मुंबई से इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आई है| मुंबई में दहशत का माहौल पैदा हो गया है|...