30 C
Mumbai
Saturday, October 16, 2021

विपक्ष के मार्च से टीएमसी और आम आदमी पार्टी ने बनाई दूरी, TMC ने कहा- एकता के नाम पर हमें 'टेकेन फॉर ग्रांडेंट' न लें

नई दिल्ली: संसद में विपक्ष के मार्च में शामिल न होने के सवाल पर टीएमसी ने कहा है कि टीएमसी (TMC) को आप टेकेन फॉर ग्रांटेड नहीं (Taken for Granted) ले सकते. तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि वो विपक्षी एकता के पक्ष में है लेकिन इसका भी एक तरीका होता है. जहां एक तरफ टीएमसी ने विपक्ष के मार्च से किनारा किया वहीं आम आदमी पार्टी भी केंद्र के खिलाफ होने वाले इस प्रदर्शन में शामिल नहीं हुई.

टीएमसी ने कहा कि बाकी विपक्षी पार्टियों से अलग हटकर टीएमसी का पक्ष है. पार्टी सांसद सौगात रॉय ने कहा कि बंगाल में टीएमसी ने अकेले सरकार बनाई है जबकि महाराष्ट्र में कांग्रेस-शिवसेना-एनसीपी की सरकार है और तमिलनाडु में डीएमके-कांग्रेस की.

विपक्ष के विरोध मार्च में आम आदमी पार्टी भी शामिल नहीं हुई जबकि बैठक में शामिल हुई थी. पार्टी के सांसद संजय सिंह का इस मसले पर साफ कहना है कि संसद के बाहर का विरोध पार्टियों का कार्यक्रम है, इसको संसद के अंदर की एकजुटता से अलग देखना चाहिए.

राहुल गांधी ने सरकार पर लगाया आरोप

विपक्षी दलों का केंद्र के खिलाफ मार्च राहुल गांधी के नेतृत्व पर निकाला गया था. पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि विपक्ष सरकार से लगातार बातचीत करने को कह रही है लेकिन सरकार विपक्ष की बात सुनने को तैयार नहीं है. उन्होंने कहा कि हमने केंद्र सरकार से पेगासस पर चर्चा करने के लिए कहा तो सरकार ने साफ तौर पर मना कर दिया. हमने संसद में किसानों के मुद्दों को उठाया तो उस पर भी बात नहीं हुई. आज हम आपसे यहां बात करने आए हैं क्योंकि हमें संसद में बोलने का मौका ही नहीं दिया गया. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार लोकतंत्र की हत्या कर रही है.

12 पार्टियों ने निकाला संसद के अंदर से मार्च!

संसद में सरकार के रवैया के खिलाफ कांग्रेस के नेतृत्व में 12 विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने संसद के अंदर से संसद के बाहर विजय चौक तक मार्च निकाला. शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि राज्यसभा में जिस तरह से बुधवार को मार्शल का इस्तेमाल किया गया वो ऐसे लग रहा था जैसे पाकिस्तान के बॉर्डर पर हैं.

टीएमसी और आम आदमी पार्टी के रुख से साफ है कि विपक्षी पार्टियां एकता की खूब बात करें लेकिन सभी पार्टियों को एकता के एक सूत्र में बांधना आसान नहीं होगा चाहे मसला जनता से जुड़ा ही क्यों न हो.

Related Articles

मुंबई मराठी ग्रंथ संग्रहालय चुनाव में केवल 34 मतदाता 

अनिल गलगली ने चैरिटी कमिश्नर से की शिकायत मुंबई मराठी ग्रंथ संग्रहालय की आम सभा का चुनाव हुआ। उस...

शब्‍दों-अक्षरों की सत्‍ता पर कोई संकट नहीं है : डॉ.करुणाशंकर उपाध्‍याय

आदर्श व्‍यक्त्तिव ही हिंदी के काम को आगे बढ़ाता है-डॉ.दामोदर खड़से मुंबई। ‘मेल,वाट्सअप,वर्चुअल के दौर में भी अक्षरों-शब्‍दों की...

दशहरा व धम्मचक्र परिवर्तन दिन के अवसर पर सुकन्या समृद्धि योजना का पासबुक वितरण तथा स्वर्ण पदक विजेताओं को किया गया सम्मानित

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की ओर से दशहरा व धम्मचक्र परिवर्तन दिन के अवसर पर सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत दस साल...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

मुंबई मराठी ग्रंथ संग्रहालय चुनाव में केवल 34 मतदाता 

अनिल गलगली ने चैरिटी कमिश्नर से की शिकायत मुंबई मराठी ग्रंथ संग्रहालय की आम सभा का चुनाव हुआ। उस...

शब्‍दों-अक्षरों की सत्‍ता पर कोई संकट नहीं है : डॉ.करुणाशंकर उपाध्‍याय

आदर्श व्‍यक्त्तिव ही हिंदी के काम को आगे बढ़ाता है-डॉ.दामोदर खड़से मुंबई। ‘मेल,वाट्सअप,वर्चुअल के दौर में भी अक्षरों-शब्‍दों की...

दशहरा व धम्मचक्र परिवर्तन दिन के अवसर पर सुकन्या समृद्धि योजना का पासबुक वितरण तथा स्वर्ण पदक विजेताओं को किया गया सम्मानित

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की ओर से दशहरा व धम्मचक्र परिवर्तन दिन के अवसर पर सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत दस साल...

ईद मिलादुन्नबी को वर्ल्ड पीस डे के रूप में मनाए : नसीम खान

मुंबई। आगामी ईद मिलादुन्नबी के जश्न कि तैयारियां हर तरफ जोरों पर चल रही है। इसे देखते हुए महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री...

रोज लाखो का तांबा पीतल जर्मन हो रहा है चोरी

नाव में सवार होकर चोर कर रहे हैं चोरी मुंबई। घाटकोपर पंतनगर पुलिस की हद विक्रोली ट्रैफिक पुलिस चौकी...