30 C
Mumbai
Wednesday, January 19, 2022

podcast : स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा- हरियाणा में हेल्थ वर्कर्स की रोकी जा सकती है सैलरी

नई दिल्ली. आप सुनना शुरू कर चुके हैं न्यूज18 हिंदी का पॉडकास्ट. स्वीकार करें मेरा नमस्कार. दोस्तो, टोक्यो में चल रहे ओलिंपिक खेलों का रविवार को समापन हो गया. इस ओलंपिक में भारत ने अपना अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है. दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमण से एक भी मौत नहीं हुई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सोमवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक की अध्यक्षता करेंगे. इन खबरों के अलावा आज के पॉडकास्ट में बिहार और महाराष्ट्र की भी खबरें होंगी. आज के पॉडकास्ट में आपको बताएंगे कि हरियाणा के हेल्थ वर्करों की सैलरी आखिर क्यों रोकी जा सकती है और साथ ही यह भी कि सीजेआई ने मानवाधिकारों के सबसे ज्यादा उल्लंघन की आशंका कहां जताई और इसे रोकने के लिए क्या उपाए बताए. फिलहाल आज की पहली खबर.


कोविड-19 महामारी के बीच आयोजित हुए 32वें टोक्यो ओलंपिक खेलों का रविवार को समापन हो गया. भारत ने इस ओलंपिक में अपना अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है. भारत की झोली में कुल 7 पदक आए. टोक्यो की पदक तालिका में भारत 47वें स्थान पर रहा. भारत ने एक गोल्ड, दो सिल्वर और चार कांस्य पदक जीते हैं. इससे पहले लंदन ओलंपिक 2012 में भारत के खाते में छह पदक आए थे. टोक्यो ओलंपिक में वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने सिल्वर मेडल जीतकर भारत को पहला पदक दिलाया. इसके बाद रेसलर रवि कुमार दहिया ने सिल्‍वर, जबकि शटलर पीवी सिंधु, बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन और पुरुष हॉकी टीम ने ब्रॉन्ज मेडल झोली में डाले. भारत को अपने अभियान के अंतिम दिन एक गोल्ड और एक ब्रॉन्ज मिला. नीरज चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो में गोल्ड जीत कर इतिहास रच डाला जबकि पहलवान बजरंग पूनिया ने कांस्य पदक जीता.

देशभर में कोरोना संक्रमण की कम होती रफ्तार के बीच दिल्ली को भी बहुत राहत भरी सांस मिली है. दिल्ली की ओर से रविवार को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया गया है कि पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण से एक भी मौत नहीं हुई है. इस दौरान कोरोना संक्रमण के कुल 66 नए मामले सामने आए हैं जबकि कोरोना संक्रमित 95 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे हैं. फिलहाल दिल्ली में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या महज 536 है. दिल्ली में कोरोना संक्रमण के सुधरते हालात को देखते हुए दिल्ली सरकार ने 9 जुलाई यानी आज से साप्ताहिक बाजारों को खोलने की इजाजत दे दी है. आपको बता दें कि दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 67 हजार 316 संदिग्ध मरीजों की कोरोना जांच की गई है. फिलहाल दिल्ली में कोरोना पॉजिटिविटी रेट महज 0.10 फीसदी रह गई है.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को घोषणा की कि कोविड-19 रोधी टीके की दोनों खुराक ले चुके मुंबईवासी 15 अगस्त से लोकल ट्रेनों में यात्रा कर सकते हैं. ठाकरे ने एक ‘लाइव वेबकास्ट’ में यह भी कहा कि उनकी सरकार दुकानों, मॉल, रेस्तरां और धार्मिक स्थलों को छूट देने पर विचार कर रही है और सोमवार को कोरोना वायरस कार्यबल की बैठक के दौरान इस बारे में निर्णय किया जाएगा. आपको याद दिला दें कि महानगर में उपनगरीय ट्रेन सेवाएं इस साल अप्रैल में निलंबित कर दी गई थीं, जब राज्य में महामारी की दूसरी लहर के दौरान कोविड-19 के मामले चरम पर थे. फिलहाल सिर्फ सरकारी कर्मचारियों और आवश्यक सेवा से जुड़े कर्मियों को ही लोकल ट्रेनों में यात्रा करने की अनुमति है. 15 अगस्त से मुंबई लोकल में सिर्फ उनलोगों को ही ट्रेनों में चढ़ने की अनुमति दी जाएगी, जिन्होंने टीके की दोनों खुराक ले ली हो. सरकार ने कहा है कि वैक्सीन की दूसरी खुराक लेने के 14 दिन बाद ही मुंबई लोकल ट्रेनों में यात्रा करने की इजाजत होगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सोमवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक की अध्यक्षता करेंगे. इस दौरान वे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की समुद्री सुरक्षा पर एक खुली परिचर्चा में भाग लेंगे. परिचर्चा का विषय है ‘समुद्री सुरक्षा को बढ़ावा : अंतरराष्ट्रीय सहयोग की आवश्यकता’. प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक इस बैठक में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्य देशों के राष्ट्राध्यक्षों, सरकार के प्रमुखों और संयुक्त राष्ट्र प्रणाली और प्रमुख क्षेत्रीय संगठनों के उच्च स्तरीय विशेषज्ञों के भाग लेने की उम्मीद है. नरेंद्र मोदी सुरक्षा परिषद बैठक की अध्यक्षता करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं.

ये खबरें आप न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में सुन रहे हैं. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉटकॉम पर जाएं.

बीजेपी विधायक नितेश राणे ने गणेशोत्सव के मुद्दे पर महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार को घेरने की कोशिश की है. राणे ने कहा, ‘मुंबई में स्थिति पश्चिम बंगाल के समान है, जहां दुर्गा पूजा समारोह प्रतिबंधित थी. गणेश उत्सव मंडलों के लिए नए नियमों के अनुसार त्योहार मनाना मुश्किल है. हमने राज्यपाल के सामने अपनी समस्या रखी है.’ राणे ने कहा, कुछ समय पहले अन्य धार्मिक उत्सव मनाए जाते थे, उन्हें किसी प्रकार की असुविधा का सामना नहीं करना पड़ता था. फिर सिर्फ हिंदू ही क्यों? हिंदू धर्म खतरे में है. हमने राज्यपाल से अपने त्योहार की रक्षा करने को कहा, नहीं तो ठाकरे सरकार धीरे-धीरे त्योहार खत्म कर देगी. आपको बता दें कि संभावित कोविड-19 की तीसरी लहर के मद्देनजर महाराष्ट्र सरकार ने 10 सितंबर से शुरू होने वाले 10 दिवसीय गणेशोत्सव के लिए विशाल सार्वजनिक समारोहों और भगवान गणेश की विशाल मूर्तियों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है. इस बारे में राज्य सरकार ने बीते मंगलवार को एक विस्तृत अधिसूचना जारी कर सार्वजनिक स्थलों पर मूर्तियों की ऊंचाई 4 फीट और घरेलू पूजा के लिए 2 फीट तक सीमित कर दी है. सरकार ने 10 दिनों के दौरान कोविड -19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने को कहा है. सरकार ने कहा है कि इस 10 दिन के दौरान किसी समारोह के लिए जुलूस की अनुमति नहीं दी जाएगी.

हरियाणा के जो हेल्थ वर्कर समय आ जाने के बाद भी वैक्सीन की दूसरी डोज नहीं लगवा रहे, उनकी सैलरी रोकी जा सकती है. इस आशय का बयान हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने दिया है. हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने वैक्सीनेशन को लेकर कहा कि जिन हेल्थ वर्कर्स, कोरोना वॉरियर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स ने वैक्सीन की दूसरी डोज नहीं लगवाई, वे वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा लें. विज ने कहा कि वे चाहते हैं कि अगर कोरोना की तीसरी लहर आए, तो सब सुरक्षित रहें. विज ने कहा कि अगर हेल्थ वर्कर्स, कोरोना वॉरियर्स और जो फ्रंटलाइन पर काम कर रहे हैं वे वैक्सीन की दूसरी डोज नहीं लगवाते तो सरकार कानून के तहत उनके खिलाफ बड़ा फैसला भी ले सकती है और वैक्सीन की दूसरी डोज न लगवाने वालों की सैलरी भी रोकी जा सकती है.

बिहार के छपरा स्थित प्रभुनाथ नगर के बाल गृह का ग्रिल तोड़कर शनिवार की रात करीब 21 बच्चे भाग निकले. बच्चों के भागने की सूचना मिलते ही बाल संरक्षण इकाई उनकी बरामदगी के लिए शहर के विभिन्न चौक-चौराहों, बस स्टैंड और स्टेशन पर बच्चों की खोजबीन शुरू की. बाद में 13 बच्चे बाल गृह वापस आ गए. बाल गृह के केअर टेकर ने मुफस्सिल थाना में प्राथमिकी भी दर्ज कराई है. भागे हुए 8 बच्चों में 4 बच्चों को आरपीएफ टीम ने छपरा जंक्शन से बरामद किया और बाल गृह को सौंप दिया. इधर बाल संरक्षण इकाई से जुड़े पदाधिकारी बच्चों के अभिभावकों से भी संपर्क बनाए हुए हैं और उनकी वापसी के लिए लगातार स्थानीय थाने से भी जानकारी ले रहे हैं. बाल गृह की सुरक्षा में लापरवाही बरतने वाले कर्मियों के खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है. दोषी लोगों के खिलाफ कार्रवाई की बात कही जा रही है.

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एनवी. रमण ने रविवार को कहा कि थानों में मानवाधिकारों के हनन का सबसे ज्यादा खतरा है. CJI ने कहा कि हिरासत में यातना और अन्य पुलिसिया अत्याचार देश में अब भी जारी हैं. उन्होंने देश में पुलिस अधिकारियों को संवेदनशील बनाने की भी पैरवी की. राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण यानी नालसा के मुख्य संरक्षक CJI ने कहा कि कानूनी सहायता के संवैधानिक अधिकार और मुफ्त कानूनी सहायता सेवाओं की उपलब्धता के बारे में जानकारी का प्रसार पुलिस की ज्यादतियों को रोकने के लिए आवश्यक है. उन्होंने कहा, ‘प्रत्येक थाने, जेल में डिस्प्ले बोर्ड और होर्डिंग लगाना इस दिशा में एक कदम है.’ साथ ही कहा कि नालसा को देश में पुलिस अधिकारियों को संवेदनशील बनाने के लिए कदम उठाना चाहिए. जस्टिस रमण विज्ञान भवन में कानूनी सेवा मोबाइल एप्लिकेशन और नालसा के दृष्टिकोण ‘मिशन स्टेटमेंट’ की शुरुआत के अवसर पर लोगों को संबोधित कर रहे थे.

ये खबरें आप न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में सुन रहे थे. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉटकॉम पर जाएं. न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में आज इतना ही. नई खबरों और नए अपडेट के साथ हम फिर मिलेंगे. तबतक के लिए दें विदा. नमस्कार.

Related Articles

बाइक चोर का आरोपी निकला मोबाइल चोर

रवि निषाद/मुंबई। पंतनगर पुलिस की हद से चोरी हुए एक पल्सर 220 बाइक के आरोपी को पुलिस ने करीब एक साल बाद...

घाटकोपर के फुटपाथ हुए फेरी वालो के कब्जे में

बिना परवाना धड़ल्ले से चल रहे अवैध धंधे मुंबई। मनपा एन विभाग का फेरीवालों का उड़नदस्ता मतलब चोर गाडी...

राजस्थान के इस सरकारी अस्पताल में नवजातों और प्रसूताओं पर दौड़ते हैं चूहे, काट लेते हैं अंगुली

Sirohi latest news: कोरोना महामारी के बीच सिरोही के जनाना अस्पताल (Janana Hospital) में चूहों ने आतंक मचा रखा है. जनाना अस्पताल के प्रसूती वार्ड में इन चूहों को प्रसूताओं और नवजातों के ऊपर दौड़ते हुये देखा जा सकता है. कोरोना प्रोटोकॉल की पालना का दावा करने वाले इस अस्पताल में अव्यवस्थाओं का ऐसा आलम है कि यहां आने वाला मरीज यहां ठीक होने की बजाय और बीमार हो जाता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

बाइक चोर का आरोपी निकला मोबाइल चोर

रवि निषाद/मुंबई। पंतनगर पुलिस की हद से चोरी हुए एक पल्सर 220 बाइक के आरोपी को पुलिस ने करीब एक साल बाद...

घाटकोपर के फुटपाथ हुए फेरी वालो के कब्जे में

बिना परवाना धड़ल्ले से चल रहे अवैध धंधे मुंबई। मनपा एन विभाग का फेरीवालों का उड़नदस्ता मतलब चोर गाडी...

राजस्थान के इस सरकारी अस्पताल में नवजातों और प्रसूताओं पर दौड़ते हैं चूहे, काट लेते हैं अंगुली

Sirohi latest news: कोरोना महामारी के बीच सिरोही के जनाना अस्पताल (Janana Hospital) में चूहों ने आतंक मचा रखा है. जनाना अस्पताल के प्रसूती वार्ड में इन चूहों को प्रसूताओं और नवजातों के ऊपर दौड़ते हुये देखा जा सकता है. कोरोना प्रोटोकॉल की पालना का दावा करने वाले इस अस्पताल में अव्यवस्थाओं का ऐसा आलम है कि यहां आने वाला मरीज यहां ठीक होने की बजाय और बीमार हो जाता है.

शेयर बाजार में आपकी हेल्प के लिए SEBI ने उतारा अपना सारथी, यूं आएगा आपके काम

Saarthi Mobile App: SEBI ने निवेशकों को शिक्षा देने वाला एक मोबाइल ऐप सारथी (Saa₹thi) लॉन्च किया. यह ऐप युवा निवेशकों को ऐसी-ऐसी जानकारियां देगा, जिससे कि शेयर बाजार में आपका सफर आसान हो जाएगा.

क्या वैज्ञानिकों ने मंगल ग्रह पर जीवन ढूंढ़ लिया? क्यूरोसिटी को मिले कॉर्बन के संकेत

Scientists find carbon on Red Planet: वैज्ञानिकों ने कहा कि हो सकता है कि बारिश के चलते ये कण सतह पर गिरे और फिर सतह के अंदर मंगल ग्रह की चट्टानों में लंबे समय के लिए सुरक्षित हो गए हों. हालांकि एक और दलील में कहा गया है कि मंगल ग्रह पर मिले कॉर्बन सिग्नेचर अल्ट्रावॉयलेट किरणों और कॉर्बन डाई ऑक्साइड के संपर्क में आने का परिणाम हो सकते हैं, जिसने मंगल ग्रह के वायुमंडल में कॉर्बन पैदा किया हो और फिर ये कण मंगल ग्रह की सतह पर जम गए हों.