31 C
Mumbai
Sunday, December 5, 2021

यूपी पुलिस का 'ऑपरेशन लंगड़ा', 8 हजार से ज्यादा एनकाउंटर में 3300 'अपराधी' बने निशाना

नई दिल्ली. अपराधियों के खिलाफ उत्तर प्रदेश पुलिस अलर्ट मोड पर है. इस बात के संकेत मार्च 2017 में भारतीय जनता पार्टी के राज्य में सत्ता में आने के बाद के आंकड़े देते हैं. यूपी पुलिस ने 8 हजार 472 एनकाउंटर में 3 हजार से ज्यादा कथित आरोपियों को गोली मारी है या घायल किया है. इनमें से ज्यादातर मामलों में पुलिस की गोली ‘अपराधियों’ के पैरों पर लगी. साथ ही पुलिस का कहना है कि इन मुठभेड़ों के दौरान 13 पुलिसकर्मियों की मौत हुई है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, मार्च 2017 से लेकर अब तक यूपी पुलिस ने 8 हजार से ज्यादा इन मुठभेड़ों में 3 हजार 302 कथित अपराधियों को निशाना बनाया है. आंकड़े बताते हैं कि इन मुठभड़ों में 146 मौतें भी हुई हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, अपराधियों के खिलाफ इस पूरी प्रक्रिया का कोई आधिकारिक नाम नहीं है, लेकिन कुछ वरिष्ठ अधिकारी इसे ‘ऑपरेशन लंगड़ा’ कहते हैं.

आधिकारिक रूप से वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने इस बात से इनकार किया है कि अपराधियों को अपंग करने की कोई विशेष रणनीति है. साथ ही पुलिस के पास इसका कोई डेटा नहीं है कि पैरों में गोली लगने के बाद कितने विकलांग हुए. हालांकि, पुलिस ने विभाग के आंकड़ों पर जोर देकर कहा कि इन मुठभेड़ों में 13 पुलिसकर्मियों की मौत हुई और 1 हजार 157 घायल हुए. वे बताते हैं कि इस दौरान 18 हजार 225 अपराधी गिरफ्तार हुए.

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में यूपी पुलिस में एडीजी (कानून एवं व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा कि पुलिस मुठभेड़ में घायलों की ज्यादा संख्या बताती है कि पुलिस का मुख्य उद्देश्य अपराधियों को खत्म करना नहीं है. उन्होंने कहा कि पहला मकसद व्यक्ति को गिरफ्तार करना है.

यह भी पढ़ें: Delhi News: कोविड नियमों का पालन न करने पर सरोजिनी नगर मार्केट में 46 दुकानें बंद

घटनाओं पर एक नजर

गाजियाबाद, 12 अगस्त- डकैती के मामले में वांछित 50 हजार का इनामी अफ्शारुन पुलिस मुठभेड़ में पैर में गोली लगने के बाद गिरफ्तार हो गया.

बहराइच, 8 अगस्त- डकैती के 35 से ज्यादा मामलों में वांछित 50 हजार रुपये का इनामी मणिराम को भी पुलिस मुठभेड़ में गोली लगी थी. पुलिस का कहना है कि कथित रूप से उसने पहले गोली चलाई थी.

गौतम बुद्ध नगर, 4 अगस्त- हत्या का आरोपी सचिन चौहान पुलिस मुठभेड़ में पैर में गोली लगने से घायल हो गया. अधिकारियों का कहना है कि चौहान ने उसे पकड़ने वाली नोएडा पुलिस टीम पर पहले गोली चलाई थी.

बहराइच, 22 जून- बलात्कार के मामले में आरोपी परशुराम को पुलिस मुठभेड़ में पैर में गोली लगी. पुलिस ने कहा कि हिरासत में भागने के बाद यह एनकाउंटर हुआ था.

Related Articles

75 वर्षीय बृद्धा का हत्यारा नातू गिरफ्तार

7 साल बाद पुलिस ने जाल में फंसाया मुंबई। पवई पुलिस की हद में 7 साल पहले हुई एक...

जीकेसी पटना जिला युवा प्रकोष्ठ ने मनायी डा. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती

पटना। ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) पटना जिला युवा प्रकोष्ठ ने भारत के प्रथम राष्ट्रपति देशरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती हर्षोल्लास...

इमेजिका वेलफेयर फाउंडेशन के सौजन्य से विभूतियों को मिला डॉ राजेंद्र प्रसाद स्मृति सम्मान

पटना। इमेजिका वेलफेयर फाउंडेशन के सौजन्य भारत रत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती के अवसर पर डॉ राजेंद्र प्रसाद स्मृति सम्मान समारोह...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

75 वर्षीय बृद्धा का हत्यारा नातू गिरफ्तार

7 साल बाद पुलिस ने जाल में फंसाया मुंबई। पवई पुलिस की हद में 7 साल पहले हुई एक...

जीकेसी पटना जिला युवा प्रकोष्ठ ने मनायी डा. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती

पटना। ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) पटना जिला युवा प्रकोष्ठ ने भारत के प्रथम राष्ट्रपति देशरत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती हर्षोल्लास...

इमेजिका वेलफेयर फाउंडेशन के सौजन्य से विभूतियों को मिला डॉ राजेंद्र प्रसाद स्मृति सम्मान

पटना। इमेजिका वेलफेयर फाउंडेशन के सौजन्य भारत रत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती के अवसर पर डॉ राजेंद्र प्रसाद स्मृति सम्मान समारोह...

घाटकोपर में क्लीनअप मार्शल द्वारा गांधीगिरी, बिना मास्क के चलने वालों को मास्क व गुलाब देकर किया जनजागरूक

 मुंबई:घाटकोपर: विनामास्क के नागरिकों और सफाई कर्मियों के बीच विवाद अक्सर सामने आते रहे हैं। लेकिन आज घाटकोपर क्षेत्र में सफाई कर्मी...

ट्राम्बे के जाने माने समाजसेवक शब्बीर खान की घर वापसी

भाई जगताप और शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ की मौजूदगी में हुए कांग्रेस में शामिल मुंबई: आने वाले समय में...