27 C
Mumbai
Monday, November 29, 2021

Vehicle Scrappage Policy: अपनी गाड़ी को कब और कैसे दे सकेंगे कबाड़ में? जानें अहम सवालों के जवाब

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को गुजरात में इन्वेस्टर समिट (Gujarat Investor Summit) के दौरान नई वाहन स्क्रैपेज पॉलिसी (Vehicle Scrappage Policy)की शुरुआत कर दी है. इसके तहत पुरानी या अनफिट वाहनों को स्क्रैप कराने पर नगरिक को एक्स शो-रूम कीमत की 4-6 फीसदी राशि मिल सकती है. वहीं, अगर व्यक्ति वाहन स्क्रैप कराने के बाद नई गाड़ी खरीदता है, तो सर्टिफिकेट के जरिये कीमत पर 15 फीसदी तक का फायदा मिल सकता है. कहा जा रहा है कि नई नीति में 10 हजार करोड़ रुपये का निवेश आएगा और हजारों लोगों को रोजगार मिल सकेगा.

सरकार की इस नई पॉलिसी में हर जिले में एक स्क्रैप सेंटर होगा. केंद्र सरकार ने राज्यों से इन सेंटर्स के लिए मुफ्त जमीन देने के लिए कहा है. अनुमान लगाया जा रहा है कि छोटी गाड़ियों की स्क्रैपिंग प्रक्रिया शुरू होने में एक से डेढ़ साल का समय लग सकता है. वहीं, बड़े वाहनों के लिए यह प्रक्रिया दो सालों में शुरू हो सकती है. कहा जा रहा है कि 2023 तक नीति पूरी तरह से लागू हो सकेगी.

यह भी पढ़ें: जानिए क्या है सरकार की स्क्रैपज पॉलिसी? इसका आपकी गाड़ी पर पड़ेगा क्या असर

[q]क्या होता है स्क्रैप और वाहन को स्क्रैपिंग के लिए कैसे दे सकेंगे?[/q]

[ans]देश के हर जिले में स्क्रैप सेंटर खुलने की तैयारी की जा रही है. इन्हीं केंद्रों पर सारे काम होंगे. अब अगर आपका पुराना वाहन चलाने योग्य है, तो आपको एक फिटनेस सर्टिफिकेट हासिल करना होगा. अगर वाहन कबाड़ में देना चाहते हैं या अनफिट है, तो उसे स्क्रैपिंग प्रक्रिया से गुजरना होगा. इसके लिए वाहन मालिक को रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के साथ सेंटर पर पहुंचक वाहन की पूरी जानकारी देनी होगी. राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के जरिए वाहन की जांच की जाएगी. अगर पता चलता है कि वाहन चोरी में शामिल नहीं है, तो स्क्रैपिंग की जा सकेगी. स्क्रैप सर्टिफिकेट का इस्तेमाल एक बार ही किया जा सकेगा.[/ans]

[q]फिटनेस सर्टिफिकेट क्या है और इसे कैसे हासिल कर सकते हैं?[/q]

[ans]निजी वाहन का 15 साल और कमर्शियल वाहन का रजिस्ट्रेशन 10 साल के लिए होता है. 15 साल पूरे होने के बाद हर 5 साल में फिटनेस सर्टिफिकेट हासिल करना होगा. वाहन चालक इसे केवल तीन बार हासिल कर सकेंगे. फिटनेस सेंटर पर गाड़ी की पूरी तरह जांच होगी. इसमें प्रदूषण, चलने की क्षमता, पर्यावरण के लिए तय मानक, ब्रेक, इंजन समेत कई चीजों की जांच की जाएगी. कहा जा रहा है कि ऑटोमेटेड होने के चलते इस प्रक्रिया में गोलमाल की संभावनाएं कम हैं.[/ans]

[q]वाहन अनफिट है तो क्या होगा, अगर खुद स्क्रैप कराना चाहते हैं तो कौन से दस्तावेज देने होंगे?[/q]

[ans]अगर जांच के दौरान वाहन अनफिट पाया जाता है, तो उसका रजिस्ट्रेशन रिन्यू नहीं हो सकेगा. ऐसे में वाहन को स्क्रैप में देने के अलावा कोई भी रास्ता नहीं बचेगा. अगर आप खुद वाहन को स्क्रैप कराना चाहते हैं, तो ओरिजिनल रजिस्ट्रेश सर्टिफिकेट, मालिक की अनुमति, पैन कार्ड, बैंक चेक, पहचान पत्र दिखाने होंगे. अगर आपका वाहन पुश्तैनी है, तो मालिक का मृत्यु प्रमाण पत्र और उत्तराधिकार पत्र पेश करना होगा.[/ans]

[q]फायदा कैसे मिलेगा?[/q]

[ans]वाहन मालिक को सेंटर पर एक डिपॉजिट सर्टिफिकेट मिलेगा. यह प्राप्ति प्रमाण पत्र फॉर्म-2 भरने और पूरे दस्तावेज दिखाने पर मिलेगा. जब वाहन स्क्रैप हो जाएगा, तो मालिक को मूल्यांकन राशि मिल जाएगा. इस सर्टिफिकेट का इस्तेमाल देशभर में किया जा सकेगा.[/ans]

Related Articles

शादी करने से इंकार करने पर बलात्कार के बाद हुई हत्या

प्रेमी ने दोस्त के साथ मिलकर 20 वर्षीय युवती के साथ किया बलात्कार व हत्या, विनोवा भावे नगर पुलिस की हद का...

एक मोबाइल की चोरी में पकड़ा गया आरोपी

6 मामलों का हुआ खुलासा सभी मोबाइल बरामद मुंबई। एक 70 वर्षीय बृद्ध के मोबाइल चोरी की घटना की...

मेट्रो स्टेशन का नाम रामबाग चांदिवली किए जाने की मांग

मुंबई। मेट्रो परियोजना के तहत जोगेश्वरी से विक्रोली तक के मार्ग पर मेट्रो निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। इस मार्ग...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

शादी करने से इंकार करने पर बलात्कार के बाद हुई हत्या

प्रेमी ने दोस्त के साथ मिलकर 20 वर्षीय युवती के साथ किया बलात्कार व हत्या, विनोवा भावे नगर पुलिस की हद का...

एक मोबाइल की चोरी में पकड़ा गया आरोपी

6 मामलों का हुआ खुलासा सभी मोबाइल बरामद मुंबई। एक 70 वर्षीय बृद्ध के मोबाइल चोरी की घटना की...

मेट्रो स्टेशन का नाम रामबाग चांदिवली किए जाने की मांग

मुंबई। मेट्रो परियोजना के तहत जोगेश्वरी से विक्रोली तक के मार्ग पर मेट्रो निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। इस मार्ग...

पूर्व बेस्ट समिति के अध्यक्ष व वार्ड क्रमांक153 के नगरसेवक अनिल पाटणकर के प्रयास से मतदाता सूची में नाम पंजीकरण मुहिम शुरू

मुंबई। चेंबूर के घाटला गांव वार्ड क्रमांक153 में पूर्व बेस्ट समिति के अध्यक्ष तथा नगरसेवक अनिल पाटणकर के प्रयास से मतदाता सूची...

एनसीबी ने ड्रग्स की कार्रवाई का खुलासा करने से किया इनकार!

मुंबई। केंद्रीय गृह मंत्रालय के तहत काम करने वाले ब्यूरो ऑफ नारकोटिक्स कंट्रोल (एनसीबी) ने आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली को पिछले तीन...