28 C
Mumbai
Friday, September 17, 2021

Flood in Rajasthan: वसुंधरा राजे ने किया हवाई सर्वे, कहा- जनता रो रही है और सरकार सो रही है

जयपुर. कोटा संभाग में हुई भारी बारिश (Heavy rain) के बाद पूर्व सीएम वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) ने सोमवार को बारां और झालावाड़ जिले का हवाई सर्वे (Aerial surve) कर गहलोत सरकार को जमकर आड़े हाथों लिया. राजे ने सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) पर निशाना साधते हुये कहा कि जनता रो रही है और सरकार सो रही है. मुख्यमंत्री बाहर निकलें और जनता की सुध लें. अतिवृष्टि से दर्जनों लोगों की मौत हो गई. सैकड़ों मकान ढह गए. हजारों पशु मर गये और लापता हो गए. लेकिन राज्य सरकार और प्रशासन पंगु बना बैठा है. संकट के इस दौर में बीजेपी जनता के दुख-दर्द जानने की और उनकी मदद के लिए जमीन पर खड़ी है.

राजे ने बारां और झालावाड़ के अतिवृष्टि इलाकों का हवाई सर्वे करने के बाद हाड़ौती संभाग में बाढ़ से बिगड़ी स्थितियों पर चिंता जाहिर की. राजे ने राज्य सरकार पर संवेदनहीनता का आरोप लगाते हुये हाड़ौती के हालात दुख व्यक्त किया है. राजे ने बारां जिले के सीसवाली, मांगरोल, छिनोद, शाहबाद, सड़बील खेड़ा डांग, कवाई और छीपा बड़ौद सहित कई गांवों का दौरा किया. उसके बाद राजे ने कि कहा अतिवृष्टि की मार से परेशान हाड़ौती की जनता खून के आंसू रो रही हैं. राज्य सरकार जयपुर के सिविल लाइंस में चैन की नींद सो रही है. राजे के इस हवाई सर्वे के दौरान उनके साथ उनके पुत्र झालावाड़-बारां सांसद दुष्यंत सिंह भी थे. राजे ने कहा कि चक्रवात ताऊते के समय पीएम नरेंद्र मोदी ने दौरा किया. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी बाढ़ग्रस्त इलाके का दौरा कर लोगों राहत पहुंचाई है. उन्होंने गहलोत पर तंज कसते हुये कहा कि मुख्यमंत्री जी भी बाहर निकले और जनता की सुध लें.

राज्य सरकार ने जनता को अपने हाल पर छोड़ा

वसुंधरा राजे ने कहा कि पिछले 10 दिन की अतिवृष्टि से उपजे बाढ़ के हालात में राज्य सरकार ने जनता को अपने हाल पर छोड़ दिया है। संकट की इस घड़ी में जनता के दुख-दर्द जानने की जगह मुख्यमंत्री और मंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए समीक्षा कर खानापूर्ति में लगे रहे. राजे ने कहा कि आज हाड़ौती में 100 फीसदी फसलें बर्बाद हो चुकी है, लेकिन संभागीय आयुक्त 30 फीसदी फसल बर्बाद होने की रिपोर्ट देकर आंखों में धूल झोंक रहे हैं.

सरकार की अदूरदर्शिता के चलते हाड़ौती के ऐसे हालात हुए

राजे ने कहा कि बारां, झालावाड़, कोटा और बूंदी के अधिकांश इलाके जलमग्न हो रहे हैं लेकिन उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं है. हमारी योजना को बंद करने का खामियाजा प्रदेश भुगत रहा. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की अदूरदर्शिता के चलते हाड़ौती के ऐसे हालात हुए हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि राजनीतिक कारणों से हमारी सरकार की ओर से चलाई गई मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना को बंद करने का नतीजा आज कोटा संभाग ही नहीं पूरा प्रदेश भुगत रहा है. इस योजना से गांव का पानी गांव में और खेत का पानी खेत में ही एकत्र होता था. अब हालात ये है कि करीब-करीब पूरा हाड़ौती जलमग्न हो गया.

Related Articles

माहिम बीच का बदला नजारा

मुंबई। मुंबई के ऐतिहासिक भूमि और मछुआरों का गढ़ माहिम के बीच (समुन्द्र तटीय क्षेत्र) को अब पर्यटन की दृष्टि से बेहतरीन...

‘लिपस्टिक का Color चेंज किजिए’ में दिखेगा नीलकमल सिंह और प्रगति भट्ट का जलवा

हो जाईये तैयार आ रहा है भोजपुरी इंडस्ट्री के बवाल सिंगर नीलकमल सिंह और सुपर सिंगर प्रियंका सिंह की आवाज में नया...

घाटकोपर पूर्व के श्री विघ्नेश्वर मित्र मंडल के गणेशोत्सव का रजत जयंती वर्ष

मुंबई। घाटकोपर पूर्व के राजावाडी स्थित श्री विघ्नेश्वर मित्र मंडल के गणेशोत्सव का इस बार २५वा वर्ष है। जिसके कारण रजत जयंती...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

माहिम बीच का बदला नजारा

मुंबई। मुंबई के ऐतिहासिक भूमि और मछुआरों का गढ़ माहिम के बीच (समुन्द्र तटीय क्षेत्र) को अब पर्यटन की दृष्टि से बेहतरीन...

‘लिपस्टिक का Color चेंज किजिए’ में दिखेगा नीलकमल सिंह और प्रगति भट्ट का जलवा

हो जाईये तैयार आ रहा है भोजपुरी इंडस्ट्री के बवाल सिंगर नीलकमल सिंह और सुपर सिंगर प्रियंका सिंह की आवाज में नया...

घाटकोपर पूर्व के श्री विघ्नेश्वर मित्र मंडल के गणेशोत्सव का रजत जयंती वर्ष

मुंबई। घाटकोपर पूर्व के राजावाडी स्थित श्री विघ्नेश्वर मित्र मंडल के गणेशोत्सव का इस बार २५वा वर्ष है। जिसके कारण रजत जयंती...

मध्य रेल पर स्वच्छता शपथ के साथ स्वच्छता पखवाड़ा-2021 शुरू

मुंबई। श्री अनिल कुमार लाहोटी, महाप्रबंधक, मध्य रेल ने दिनांक 16.9.2021 को पुणे मंडल के निरीक्षण के दौरान मिरज रेलवे स्टेशन पर...

साकीनाका में बलात्कार ओर हत्या के बाद लड़कियों की सुरक्षा को लेकर अभिभावकों में चिंता

मुंबई। महिलाओं की सुरक्षा की दृष्टि से देश की आर्थिक राजधानी मुंबई को काफी सुरक्षित माना जाता है लेकिन पिछले दिनों साकीनाका...