27 C
Mumbai
Sunday, November 28, 2021

OMG: 5 साल की बच्ची के पेट में बन गई थी पांच गुनी बड़ी आंत, जोधपुर में हुई दुनिया की दुर्लभ सर्जरी

पूजा के इलाज का यह खर्च सरकार की योजना से पूरा हो गया. प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना से पूजा का इलाज फ्री हुआ है.

पूजा के इलाज का यह खर्च सरकार की योजना से पूरा हो गया. प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना से पूजा का इलाज फ्री हुआ है.

World rare operation in jodhpur: जोधपुर में पांच साल की मासूम बच्ची का एक दुर्लभ ऑपरेशन किया गया . इस मासूम के पेट में सामान्य आंत से 5 गुनी बड़ी आंत बन गई थी. यह आंत फेफड़ों तक पहुंचने के कारण उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी.

  • Share this:

जोधपुर. सनसिटी जोधपुर शहर के डॉक्टर्स ने एक जटिल ऑपरेशन (Complex operation) को अंजाम देकर 5 साल की बच्ची को नया जीवन दिया है. बच्ची के पेट में सामान्य आंत से 5 गुणा बड़ी लम्बी आंत (Long intestine) बन गई थी. यह आंत फेफड़ों तक पहुंच गई थी. इसके चलते उसके फेफड़ों ने काम करना कम कर दिया था. इसके साथ ही बच्ची को कैंसर होने की भी संभावना थी. इस बीच एमडीएम के डॉक्टर्स की टीम ने 5 घंटे तक जटिल ऑपरेशन कर बच्ची को नया जीवनदान दिया है. डॉक्टर्स का दावा है कि पेट में आंत के फेफड़ों तक पहुंचने का यह दुनिया का पहला मामला है.

जानकारी के अनुसार जोधपुर के जाखड़ गांव की रहने वाली 5 साल की पूजा सांस नहीं आने की तकलीफ को लेकर मथुरादास माथुर अस्पताल पहुंची थी. पहले उसे बाल रोग के डॉक्टर ने देखा. उसने बच्ची को कार्डियोथोरेसिक विभाग के डॉ. सुभाष बलारा को रेफर कर दिया. डॉक्टर बलारा ने जांच में पाया कि पूजा का दायां फेफड़ा सिकुड़ गया है. इस बीच अन्य जांच में पता चला कि पूजा के पेट में आंत से 5 गुणा बड़ी आंत बन गई है. यह आंत फेफड़ों तक पहुंचने से उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही है. साथ ही उसको दिया जाने वाला खाना भी आंत की नली में जमा होने लगा था.

बहुत जटिल थी सर्जरी

डॉ. बलारा ने बताया कि इस तरह का केस दुनिया में अभी तक कहीं नहीं पाया गया है. डॉक्टर्स की टीम ने इस केस की 5 घंटे जटिल सर्जरी कर पूजा को नया जीवन दिया है. पूजा की छाती में दाईं तरफ से केविटी में आइसीटीडी डालकर हवा निकालने का प्रयास किया गया. लेकिन इस दौरान पूजा के बल्ड आना शुरू हो गया. इसके बाद पूजा के चेस्ट में ट्यूब डालकर फेफड़ों का सिटी स्केन करवाया गया. इस दौरान डॉक्टर्स को पता चला कि फेफड़ो के एक भाग में गांठ है. उसने दाईं छाती के आधे हिस्से को घेर रखा है. यह ऑपरेशन गंभीर इसलिए भी था कि उसमें पेट से आंत निकालकर डायफ्राम के रास्ते छाती में जगह बनाई गई. इसके बाद कार्डिक सर्जन डॉ. सुभाष बलारा और उनकी टीम ने पूजा के जटिल ऑपरेशन को सफल बना दिया.

सरकार की योजना से मिला फ्री इलाज

पूजा के पिता किसान हैं. उनकी आर्थिक हालात भी ठीक नहीं थी. ऐसे में इस जटिल सर्जरी के लिए उनके पास पैसे नहीं थे. इस सर्जरी में ढाई से तीन लाख का खर्च होता है. लेकिन पूजा के इलाज का यह खर्च सरकार की योजना से पूरा हो गया. प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना से पूजा का इलाज फ्री हो गया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Related Articles

शादी करने से इंकार करने पर बलात्कार के बाद हुई हत्या

प्रेमी ने दोस्त के साथ मिलकर 20 वर्षीय युवती के साथ किया बलात्कार व हत्या, विनोवा भावे नगर पुलिस की हद का...

एक मोबाइल की चोरी में पकड़ा गया आरोपी

6 मामलों का हुआ खुलासा सभी मोबाइल बरामद मुंबई। एक 70 वर्षीय बृद्ध के मोबाइल चोरी की घटना की...

मेट्रो स्टेशन का नाम रामबाग चांदिवली किए जाने की मांग

मुंबई। मेट्रो परियोजना के तहत जोगेश्वरी से विक्रोली तक के मार्ग पर मेट्रो निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। इस मार्ग...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

शादी करने से इंकार करने पर बलात्कार के बाद हुई हत्या

प्रेमी ने दोस्त के साथ मिलकर 20 वर्षीय युवती के साथ किया बलात्कार व हत्या, विनोवा भावे नगर पुलिस की हद का...

एक मोबाइल की चोरी में पकड़ा गया आरोपी

6 मामलों का हुआ खुलासा सभी मोबाइल बरामद मुंबई। एक 70 वर्षीय बृद्ध के मोबाइल चोरी की घटना की...

मेट्रो स्टेशन का नाम रामबाग चांदिवली किए जाने की मांग

मुंबई। मेट्रो परियोजना के तहत जोगेश्वरी से विक्रोली तक के मार्ग पर मेट्रो निर्माण का कार्य शुरू हो गया है। इस मार्ग...

पूर्व बेस्ट समिति के अध्यक्ष व वार्ड क्रमांक153 के नगरसेवक अनिल पाटणकर के प्रयास से मतदाता सूची में नाम पंजीकरण मुहिम शुरू

मुंबई। चेंबूर के घाटला गांव वार्ड क्रमांक153 में पूर्व बेस्ट समिति के अध्यक्ष तथा नगरसेवक अनिल पाटणकर के प्रयास से मतदाता सूची...

एनसीबी ने ड्रग्स की कार्रवाई का खुलासा करने से किया इनकार!

मुंबई। केंद्रीय गृह मंत्रालय के तहत काम करने वाले ब्यूरो ऑफ नारकोटिक्स कंट्रोल (एनसीबी) ने आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली को पिछले तीन...