शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में बीए की एक छात्रा जली हुई अवस्था में खेतों में पड़ी मिली। अर्थनग्न अवस्था में छात्रा के पाए जाने पर आसपास के लोगों में हड़कंप मच गया।

आनन-फानन में पहुंची पुलिस ने उसे एंबुलेंस के जरिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी नाजुक हालत को देखते हुए लखनऊ रेफर कर दिया गया है। वहीं मौके पर पहुंचे परिजन किसी अनहोनी की घटना की आशंका जाहिर कर रहे हैं।

मामला थाना तिलहर के नगरिया मोड की है, जहां खेतों में बीए सेकंड ईयर की छात्रा जली हुई अवस्था में पड़ी मिली। अर्थनग्न अवस्था में मिली छात्रा को स्थानीय लोगों ने ढककर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने एंबुलेंस के जरिए उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

बताया जा रहा है कि वह अपने पिता के साथ सोमवार को एसएस कॉलेज में पढ़ने के लिए आई थी। 3 बजे छुट्टी होने के बाद वह नहीं मिली। करीब 5:00 बजे पुलिस ने घरवालों को सूचना दी कि उनकी बेटी जाली हुयी हालत में मिलीहै। आनन-फानन में पुलिस ने झुलसी हुई छात्रा को अस्पताल में भर्ती कराया।

छात्रा 65 फीसदी तक जल चुकी है।  उसकी हालत नाजुक होने पर उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया। लेकिन इस बात पर अभी भी सस्पेंस बना हुआ है कि कॉलेज से नगरिया मोड़ पर कैसे पहुंची? उसे किसने आग लगाई या खुद आग लगाई अभी तक इस बात का पता नहीं लग पाया है। वहीं छात्रा भी कुछ भी नहीं बता पा रही है। ऐसे में अनसुलझे सवाल के बीच पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

मौके पर पहुंचे मजिस्ट्रेट ने उसके बयान दर्ज किए हैं। पुलिस ने बताया कि छात्रा अपने गांव से कॉलेज  गई तह, जहां उसने क्लास अटेंड नहींं किया। उसक बाद उसके साथ क्या हुआ वह उसे नहीं पता। उधर भाई और पिता का आरोप है

कि उसकी बेटी के साथ बहुत बड़ी घटना हुई है। पुलिस को चाहिए इस मामले में खुलासा करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार करे। भाई और पिता ने इस मामले में तहरीर दी है। जिसके बाद पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here