मुंबई। ख्यातिलब्ध हिन्दी मासिक पत्रिका सामयिक परिवेश के बैनरतले आयोजित कविसम्मेलनो में 28 फरवरी रविवार रोज एक ही दिन दो दो कार्यक्रम हुए। जिसमें शाम 4.30 बजे से महाराष्ट्र इकाई पटल पर पूरे गर्मजोशी से तकरीबन 25 कविगणो ने शिरकत की जबकि उक्त रोज ही झारखंड अध्याय पटल पर भी दोपहर के 3 बजे से ही तकरीबन 29 से भी अधिक कविवृंदो ने अपनी शब्दो की वाणी से पटल पर धारा प्रवाह के साथ रस बरसात करा रहे थे।

बता दें कि इस कार्यक्रम में उक्त पत्रिका की प्रधान संपादिका ममता मेहरोत्रा एक तरफ पटना से पटल पर सफल एवं सुखद कार्यक्रम हेतु शुभेच्छाएँ प्रदान किए वही दुसरी तरफ उक्त पत्रिका के संपादक संजीव कुमार मुकेश जी ने दोनो जगह कार्यक्रम के समापण तक नजरें जमाए हुए थे।

बतातें चलें कि पत्रिका के उपसंपादक एवं राष्ट्रीय सलाहकार श्याम कुँवर भारती के लिए कल का रविवार का दिन काफी आपाधापीवाला रहा।झारखंड बोकारो में सुबह से सामाजिक कार्यो में जुटे रहने के बावजूद भी दोपहर बाद उन्हे अपने मोबाईल के साथ उसी तरह कभी झारखंड अध्याय एवं कभी महाराष्ट्र अध्याय के पटल पर उपस्थित होना पङता था जिस तरह पुरातन काल में ब्रह्मषि भगवान नारद अपनी वीणा के साथ कभी देवलोक एवं कभी पृथ्वीलोक पर आनन फानन में उपस्थित हुआ करते थे।

महाराष्ट्र अध्याय के पटल पर अतिथी के रूप में हौसिला प्रसाद अन्वेषी जी उपस्थित रहे जिनके उदघोषण के पश्चात दर्शना सूरज के द्वारा सरस्वती वंदना के साथ कार्यक्रम की शुरूवात हुई जिसमें उपसंपादिका नीलोफर फारुकी तौसीफ, राज्य प्रभारी आरबी सिंह ,सलाहकार वीना आडवानी के साथ साथ दो दर्जनो से भी अधिक कविगण एवं कवयित्रीगणो ने बसंत विषय पर अपनी अपनी रचनाँए सुनाए जिन सबका मार्गदर्शन श्री भारती एवं जिन सबका बेहतर संचालन सुप्रसिद्ध मंच संचालिका निक्की शर्मा रश्मि ने किया।

जबकि झारखंड अध्याय में अतिथी के रूप में सदानंद कवीश्वर विद्यमान रहे जिनके समक्ष नीतेश सागर को उपसंपादक पद की जिम्मेदारी निभाने हेतु श्री श्याम कुंवर भारती ने प्रेरित किए तथा जिनकी पटल पर मौजूदगी के क्रम में ही तकरीबन ढाई दर्जनो से भी अधिक रचनाकारो ने अपने रचनाओ के रसफुहार बरसात के रस पटल पर बरसाए।

झारखंड अध्याय में मंच संचालन विभा तिवारी एवं प्रियंका साव ने संयुक्त रूप से किए ,जिसके लिए श्रीमति तिवारी को काफी प्रशंसाँए भी मिली जिसकी शुरूवात सुधांशु श्रीवास्तव द्वारा की गयी सरस्वती वंदना के साथ हुई। कुल मिलाकर दोनो जगहो का कार्यक्रम बेहद सफल,सुखद एवं संजीदा रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here