28 C
Mumbai
Tuesday, September 21, 2021

गद्दारी करने वालों को पार्टी में नहीं लेंगे, बीजेपी से और लोग आएंगेः ममता बनर्जी

कोलकाता. बंगाल में बीजेपी को बड़ा झटका देते हुए ममता बनर्जी ने अपने पुराने सहयोगी मुकुल रॉय की घर वापसी करा दी है. इस मौके पर ममता ने साफ कर दिया कि पार्टी में गद्दारों की घर वापसी नहीं होगी, जिन्होंने पावर और पैसे के लिए विधानसभा चुनावों से पहले टीएमसी के साथ गद्दारी की. मुकुल रॉय को पार्टी में पद देने के सवाल पर ममता बनर्जी ने कहा कि इस बारे में बाद में फैसला लिया जाएगा. आइडियोलॉजी और पार्टी बदलने के पत्रकारों के सवालों के जवाब में ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी से पूछिए कि वो हर पार्टी को क्यों तोड़ना चाहती है. ममता ने कहा कि और भी बहुत सारे लोग टीएमसी में वापस आने वाले हैं. लेकिन, जिन लोगों ने पैसा और पावर के लिए टीएमसी के साथ गद्दारी की, उन्हें पार्टी में नहीं लेंगे. सिर्फ उन्हीं लोगों के नाम पर विचार किया जाएगा, जो टीएमसी के प्रति सॉफ्ट रहे और गद्दारी नहीं की.

मुकुल रॉय के टीएमसी में वापसी के मौके पर ममता बनर्जी ने कहा कि मुकुल घर का लड़का है, घर ही वापस आया है. अभिनंदन है. मुकुल को चमकाकर धमकाकर बीजेपी में ले गए थे. मैंने महसूस किया है टीएमसी में वापस आकर मुकुल को मानसिक शांति मिली है. एक सवाल के जवाब में मुकुल रॉय ने कहा कि अभी जो स्थिति है, उसमें कोई भी बीजेपी में नहीं रहेगा. बीजेपी में शोषण बहुत ज्यादा है. घर वापस आकर अच्छा लग रहा है. ममता बनर्जी ने कहा कि मुकुल रॉय का पार्टी में स्वागत है. मेरा मुकुल के साथ कोई मतभेद नहीं है. टीएमसी सबसे मजबूत पार्टी है.

बता दें कि चार साल पहले ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में गए मुकुल रॉय शुक्रवार को दोबारा टीएमसी में शामिल हो गए. कोलकाता में टीएमसी के पार्टी दफ्तर में मुकुल रॉय ने ममता बनर्जी की उपस्थिति में टीएमसी में वापसी की. इससे पहले शुक्रवार की दोपहर मुकुल रॉय टीएमसी दफ्तर पहुंचे और ममता बनर्जी सहित टीएमसी के बड़े नेताओं से मुलाकात की. घर से निकलते हुए मीडिया से बातचीत में मुकुल रॉय ने साफ कर दिया कि वे टीएमसी दफ्तर जा रहे हैं. इस बीच ममता बनर्जी ने पार्टी दफ्तर में टीएमसी की बड़ी बैठक बुलाई थी और मुकुल रॉय के औपचारिक रूप से पार्टी ज्वॉइन करने से पहले पार्टी की लंबी बैठक चली. मुकुल रॉय के साथ उनके बेटे शुभ्रांशु रॉय भी टीएमसी में शामिल हुए हैं.

विधानसभा चुनावों के बाद से ही राज्य में पहले ही बीजेपी के करीब 33 विधायकों के पार्टी छोड़ने की खबरें सामने आ रही थीं. हालांकि, एक फेसबुक पोस्ट के बाद यह भी कहा जा रहा था कि मुकुल रॉय के बेटे शुभ्रांशु रॉय टीएमसी में शामिल हो सकते हैं. उस दौरान भी मुकुल रॉय को लेकर चर्चाएं नहीं हो रही थीं.

बीते दिनों टीएमसी सांसद और वरिष्ठ नेता सौगत रॉय ने एक साक्षात्कार में दावा किया था कि कई लोग अभिषेक बनर्जी के संपर्क में हैं. रॉय इस बार नादिया जिले के कृष्णा नगर उत्तर प्रदेश सीट से चुनावी मैदान में थे. उन्होंने टीएमसी उम्मीदवार कौसानी मुखर्जी को हराया था.

Related Articles

पॉवरस्टार पवन सिंह की ब्लॉकबस्टर फिल्मों व गानों का मजा लीजिए अब BSNL WOW App पर

पॉवरस्टार पवन सिंह की ब्लॉकबस्टर फिल्मे हों या फिर "जब लगावेलु तू लिपिस्टिक" से लेकर "पुदीना" जैसे अनगिनत सुपर हिट गाने दर्शकों...

बाल साहित्यकार द्वारा लिखा हुआ लघुकथा का लघुसंग्रह कार्यक्रम में हुआ विमोचन संपन्न

by:R.B.Singh इंदौर । मध्यप्रदेश स्थित रविंद्र परिसर में पिछले बुधवार १५ सितंबर को आयोजित पुस्तक विमोचन के क्रम...

नरेंद्र गिरी महाराज की मौत से सनातन संस्कृति को बहुत बड़ी क्षति : कृपाशंकर सिंह

मुंबई। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी  महाराज की संदिग्ध मौत ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

पॉवरस्टार पवन सिंह की ब्लॉकबस्टर फिल्मों व गानों का मजा लीजिए अब BSNL WOW App पर

पॉवरस्टार पवन सिंह की ब्लॉकबस्टर फिल्मे हों या फिर "जब लगावेलु तू लिपिस्टिक" से लेकर "पुदीना" जैसे अनगिनत सुपर हिट गाने दर्शकों...

बाल साहित्यकार द्वारा लिखा हुआ लघुकथा का लघुसंग्रह कार्यक्रम में हुआ विमोचन संपन्न

by:R.B.Singh इंदौर । मध्यप्रदेश स्थित रविंद्र परिसर में पिछले बुधवार १५ सितंबर को आयोजित पुस्तक विमोचन के क्रम...

नरेंद्र गिरी महाराज की मौत से सनातन संस्कृति को बहुत बड़ी क्षति : कृपाशंकर सिंह

मुंबई। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी  महाराज की संदिग्ध मौत ने पूरे देश को हिला कर रख दिया है।...

क्राइम कंट्रोल में मददगार बनी एटीएस

मीरा भायंदर-वसई विरार अभियान की पहल ला रही रंग मुंबई। बढ़ते अपराध पर अंकुश लगाने व कानून को लेकर...

रोती है क्यो जननी से गमगीन हुआ प्रयागराज, भव्य काव्य गोष्ठी संपन्न

by:R.B.Singh प्रयागराज । 20 सितंबर को सुबह १०बजे से चंद्रशेखर आजाद पार्क प्रयागराज यूपी में सामयिक परिवेश हिंदी पत्रिका...