29 C
Mumbai
Friday, July 30, 2021

राजावाड़ी अस्पताल में हुई घटना को लेकर नागरिकों में आक्रोश,चूहे से कुतरे गए मरीज की मौत

मुंबई। घाटकोपर के राजावाड़ी अस्पताल में मरीज को चूहे द्वारा कुतरने का मामला गर्म होता जा रहा है। बुधवार को जहां स्थाई समिति की बैठक में नगरसेवकों की ओर से तीव्र नाराजगी जताई गई है। वहीं नागरिकों द्वारा भी तीव्र रोष प्रकट करते हुए इस घटना की न्यायिक जांच की मांग की गई है। 

बता दें कि दो दिन पूर्व राजावाडी अस्पताल के आ ई सी यू में भर्ती २४वर्षीय श्री निवास यलप्पा नामक युवक की आंख को चूहे ने कुतर दिया था। उसकी बुधवार शाम को मौत हो गई। हालांकि डॉक्टरों द्वारा इस मौत को स्वास्थ के कारणों का हवाला दिया जा रहा है। लेकिन मनपा द्वारा संचालित घाटकोपर के इस जाने माने ।अस्पताल वह भी आई सी यू में चूहे द्वारा मरीज की आंख को कुतर दिया जाना अस्पताल प्रशासन की लापरवाही को दर्शाता है।

कांग्रेस  के युवा नेता चंद्रेश दुबे ने कहा कि मनपा प्रशासन की लापरवाही के कारण आए दिन मनपा अस्पतालों  में इस तरह की घटनाएं सुनने को मिल रही हैं। इसके पहले शताब्दी में भी इस तरह को घटना हो चुकी है लेकिन मनपा प्रशासन ने मरीजों की सुरक्षा को लेकर कोई ठोस उपाय नहीं किया। वहीं अखिल भारतीय उत्कर्ष कामगार संगठना के अध्यक्ष ज्ञानोबा राजगुरू ने इस घटना की तीव्र निंदा करते हुए कहा कि अस्पताल में आई सी यू संचालन की जिम्मेदारी मनपा ने किसी प्राइवेट संस्था को दी है।

वहां भर्ती मरीजों की सुरक्षा की जिम्मेदारी जिस संस्था को सौंपी गई है वह नाकाम साबित हुई है। ऐसे में इस पूरे मामले की जांच करते हुए संस्था का लाइसेंस रद्द किए जाने की मांग ज्ञानोबा राजगुरू ने की है। वहीं असल्फा गांव के युवा समाजसेवक सलीम खान ने राजावाडी अस्पताल में भर्ती मरीज के साथ घटी इस तरह की घटना की तीव्र निंदा की है। सलीम खान ने कहा कि मुलुंड से गोवंडी , मानखुर्द, कुर्ला  और साकीनाका तक के मरीज़ इस अस्पताल में इलाज के लिए आते रहते हैं। लेकिन देखने में यह आता है कि सुरक्षा की लापरवाही के कारण अस्पताल के भीतर कुत्ते, बिल्ली खुले आम घूमते हुए दिखाई देते हैं। सुरक्षा कर्मी कभी भी इसे गंभीरता से नहीं लेते हैं। सलीम खान ने मृत श्री निवास के परिजनों को  आर्थिक मदद दिए जाने की मांग मनपा प्रशासन से की है।

वही भारतीय जनता पार्टी वार्ड क्रमांक १६० के अध्यक्ष नितिन कांबले ने इस घटना की तीखी निंदा करते हुए कहा कि पिछले साल मुंबई के केएम अस्पताल में भी उत्तरप्रदेश से इलाज के लिए लाए गए एक छोटे बच्चे की मौत मनपा की लापरवाही से ही हुई थी। इस घटना के कारण अस्पताल प्रशासन की काफी किरकिरी हुई थी। इसी तरह नायर अस्पताल में भी एक घटना हुई थी। यह सभी घटनाए अस्पताल प्रशासन की ओर लापरवाही दर्शाती हैं। ऐसे में राजावाडी अस्पताल में हुई इस तरह की घटना से मनपा प्रशासन को सबक लेना चाहिए और अस्पतालों की सुरक्षा व्यवस्था चुस्त दुरुस्त बनाना चाहिए।

Related Articles

सामयिक परिवेश पत्रिका की कवि गोष्ठी गहमागहमी के साथ संपन्न

By:Rananjay Singh पटना । आज हर किसी की जुबान पर छाये "सामयिक परिवेश पत्रिका" की मासिक कवि गोष्ठी सह...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

सामयिक परिवेश पत्रिका की कवि गोष्ठी गहमागहमी के साथ संपन्न

By:Rananjay Singh पटना । आज हर किसी की जुबान पर छाये "सामयिक परिवेश पत्रिका" की मासिक कवि गोष्ठी सह...

कर्नाटक में 5 उपमुख्यमंत्री बनाने की तैयारी में बीजेपी, कैबिनेट में भी युवाओं पर भरोसा

बेंगलुरू।कर्नाटक में 2023 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। उससे ठीक पहले सत्तारूढ भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने सरकार में बड़े बदलाव...

Tokyo Olympics: लवलीना बोरगोहेन ने बनाई सेमीफाइनल में अपनी जगह, भारत का दूसरा मेडल हुआ पक्का

नई दिल्ली। जापान की राजधानी टोक्यो में खेल जा रहे ओलंपिक खेलों में भारतीय महिला बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन (69 किलो) ने भारत...