29 C
Mumbai
Wednesday, September 22, 2021

सामयिक परिवेश हिंदी पत्रिका की वार्षिक बैठक में लिए गये कड़े नियम

By:R.B.Singh

पटना। गूगल मीट पर लिए गये उक्त पत्रिका के राष्ट्रीय संपादक मंडल सह संचालन समिति की बैठक दिनांक 27जुलाई 2021 को रात्री 8 बजे आयोजित की गई। जि समें प्रधान संपादक सह राष्ट्रीय अध्यक्ष:-* आ. ममता मेहरोत्रा, संपादक आ. संजीव कुमार मुकेश, सह संपादक सह राष्ट्रीय सलाहकार आ. श्याम कुँवर भारती की सम्माननीय उपस्थित से रोचक, उम्दा और लाभकारी मार्गदर्शन प्राप्त हुआ।

कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की वंदना से कीर्ति तिवारी ( मध्य प्रदेश अध्याय की राज्य सलाहकार) ने किया। इसके पश्चात सुंदर स्वागत गीत से अनुपम सिंह ( बिहार ) ने सभी का स्वागत किया।

तत्पश्चात श्याम कुँवर भारती ने स्वागत भाषण प्रस्तुत किए,जिनके अलावा प्रधान संपादक आ. ममता मेहरोत्रा का अमूल्य, सारगर्भित उद्बोधन प्राप्त हुआ। इसके बाद संपादक आ.संजीव कुमार मुकेश एवं पूर्व संपादक आ. समीर परिमल ने सभा को सम्बोधित कर अपने बेहतरीन विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि आ. ममता मेहरोत्रा जी रही, जिनके सान्निध्य में यह बैठक सुचारू रूप से सम्पन्न हुई। राष्ट्रीय संपादक मण्डल के उद्बोधन में आ. विभा तिवारी ,आ. वर्षा तिवारी ,आ.कृति तिवारी, आ. ललिता कश्यप,आ. डॉ. सत्येंद्र शर्मा ,आ. सोनिया प्रतिभा तानी आदि ने अपने अपने विचार व्यक्त किए ।जिसमें राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी दल के सुधीर श्रीवास्तव ,अशोक गोयल ,रणंजय बहादुर सिंह, प्रीतम झा ,शैलेन्द्र तिवारी आदि भी इस बैठक में विशेष रूप से मौजूद रहे।

ज्ञातव्य हो कि इस बैठक के आयोजन का मुख्य उद्देश्य सामयिक परिवेश पत्रिका को नये आयामों पर पहुंचाना है। इसलिए इस सभा में निम्नलिखित पत्रिका और विभिन्न अध्यायों के हित में निम्नलिखित निर्णय लिए गए
1.सभी संचालन समितियों मे निष्क्रिय सदस्यों की जगह सक्रिय एवं समर्पित नए सदस्यों को जोड़ना एवं जिम्मेवारी तय करना |

  1. सभी राज्य के फिलहाल पच्चीसो पटलों पर नियमित समीक्षा एवं निरीक्षण करना |
  2. पटल से नए सदस्यों को जोड़ना | जिस राज्य के पटल से जोड़ा जाए उस राज्य के सदस्यों को प्राथमिकता देना |
  3. पटल पर नित्य और नियमित विभिन्न साहित्यिक आयोजनों का संचालन करना |ताकि पटल की सक्रियता बनी रहे और साहित्यकारों की लेखनी और मंचीय कविता पाठ मे सुधार हो |
  4. सभी आयोजनों मे भाग लेने वाले साहित्यकारों को प्रशस्ति पत्र प्रदान करना | बेहतर हो सभी राज्यों के अध्यायों से तकनीकी सलाहकार के रूप मे नए सदस्यों संचालन समितियों मे जोड़े जाए जो साहित्यकार भी हो और बैनर,पोस्टर तथा सम्मान पत्र बनाने मे सक्षमभी हो | प्रयास हो की समिति के सदस्यों को भी सक्षम बनाया जाए |
  5. लाॅक डाउन और संक्रमण काल खत्म होने के बाद सभी राज्यों मे कम से कम दस पंद्रह सदस्यों के साथ नियमित मासिक कवि गोष्ठियों का आयोजन करना |साथ ही राज्य अध्याय के नाम बैनर बनाना जिसके ऊपर मे राष्ट्रीय संपादक मण्डल और नीचे राज्य संचालन समिति के सदस्यों का फ़ोटो लगा स्थान और दिनाक खाली हो|बैनर मे सामयिक परिवेश हिन्दी पत्रिका के हेडिंग होगा साथ मे पत्रिका का लोगो भी होना जरूरी होगा | हेडिंग के नीचे मासिक काव्य गोष्ठी लिखा होना चाहिए।
  6. सभी राज्यों मे जिला सामयिक परिवेश क्लब की स्थापना करवाना , जिला समूह का निर्माण करना ,जिला संचालन समितियों का गठन राज्य प्रभारी और उप – संपादक द्वारा किया जाएगा | बाकी सभी सदस्य इनका सहयोग करेंगे |
  7. पत्रिका की हार्ड कॉपी का प्रकाशन और वितरण पत्रिका डाक द्वारा उप संपादक के पते पर भेजी जाएगी और उप संपादक अपने जिला क्लबो के माध्यम से पत्रिका सभी सदस्यों तक पहुंचाएंगे |
  8. पत्रिका के हार्ड कॉपी के प्रकाशन के बाद सहयोग शुल्क मात्र प्रति कॉपी 20/- देय होगा जिसका संग्रह राज्य प्रभारी और उप संपादक अपने राज्य के सदस्यों से करेंगे |
  9. पत्रिका के प्रकाशन हेतु सभी राज्य के उप -संपादक द्वारा रचनाओ का संग्रह कर सह – संपादक के पास भेजना होगा।
    11.पत्रिका के हार्ड कॉपी या सॉफ्ट कॉपी के पाठन बाद पठन ,समीक्षा एवं सुझाव देना ताकि पत्रिका को और बेहतरीन सबके पढ़ने योग्य बनाया जा सके |
  10. पत्रिका के डिजिटल अंक को सभी सोशल मीडिया समूहों और सदस्यों मे संचालन समिति के सभी सदस्यों द्वारा शेयर करना |
  11. लघु कथा संकलन पुस्तक का मूल्य निर्धारण कर सभी सदस्यों से संग्रह कर सह – संपादक के पास भेजना ताकि पुस्तक सभी सदस्यों तक पहुंचाई जा सके
  12. सामयिक परिवेश के सक्रिय एवं समर्पित सदस्यों और संचालन समिति के कर्मठ योग्य पदाधिकारियों को कवि सम्मेलनों मे मंच प्रदान करवाना और टीवी चैनलों पर अवसर दिलाना |
  13. सामयिक परिवेश के नाम न्यूज चैनल और न्यूज पेपर का प्रकाशन पर विचार विमर्श करना और पत्रिका परिवार से जुड़े योग्य सदस्यों को अवसर प्रदान करना और उनको रोजगार उपलब्ध कराना |
  14. पत्रिका के ब्यवसायिक प्रकाशन पर विचार बिमर्श करना और पत्रिका को बाजार के सभी पुस्तक स्टालों ,पुस्तकालयों ,वाचनालयो, सरकारी ,गैर-सरकारी संस्थानों,स्कूलों ,कॉलेजों और विश्वविद्यालयों तक पहुंचाना |
  15. कोरोना काल और लाॅक डाउन की समाप्ति के बाद सभी राज्यों मे सामयिक परिवेश के नाम कवि सम्मेलनों और साहित्यिक कार्यक्रमों का आयोजन करवाना |सभी संचालन समितियों और राज्य के सदस्यों के सामूहिक प्रयास से लोकल सहयोग ,राज नेताओ ,सरकारी ,गैर सरकारी संस्थानों ,स्कूलों कॉलेजों ,विश्वविद्यालयों ,ब्यापरियों ,ब्यवसायियों ,प्रेस ,कंपनियों और साहित्य प्रेमियों के सहयोग से करवाना |
  16. कोरोना काल मे साहित्य सृजन ,पत्रिका के प्रकाशन ,अध्यायों के संचालन ,अनलाइन साहित्यिक कार्यक्रमों के आयोजन मे सहयोग करना और कोरोना संक्रमित मरीजों को अस्पताल मुहैया कराना, पहुचाने ,दवा ,ऑक्सीजन दिलवाने ,मृत जनों के दाह संस्कार मे सहयोग करना ,मास्क ,सेनेटाइजर वितरण करवाना आदि किसी भी तरह के साहित्यिक और सामाजिक उत्कृष्ठ कार्य करनेवाले साहित्यकारों और समाज सेवियों को सम्मानित करना आदि |
  17. अन्य विषय पर सभी सदस्यों की राय अगली बैठक में भी लिया जा सकता है।जिन सबपर सभी सदस्यगणो को अभी से ही अमल करनी शुरू कर देनी चाहिए।

Related Articles

खेसारी लाल यादव की बापजी से आएगा रोमेंटिक सांग ‘लव वाला डोज़’

वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स भोजपुरी के ऑफिसियल यूट्यूब चैनल से सुपरस्टार खेसारी लाल यादव और ऋतु सिंह अभिनीत भोजपुरी फिल्म ‘बाप जी’ का सबसे...

पीठ में छुरा घोंपने वाले शिवसैनिकों के ‘गुरु’ नहीं हो सकते : अनंत गीते 

मुंबई। शिवसेना नेता अनंत गीते ने शरद पवार पर हमला बोलते हुए कहा कि जिन्होंने अपनी पार्टी बनाने के लिए कांग्रेस की...

मां-बाप से ज्यादा दुनिया में कुछ भी नहीं : अखिलेश सिंह

मुंबई। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के पुलिस निरीक्षक अखिलेश सिंह ने कहा है कि आज मैं कपिल शर्मा का एक शो...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,042FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

खेसारी लाल यादव की बापजी से आएगा रोमेंटिक सांग ‘लव वाला डोज़’

वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स भोजपुरी के ऑफिसियल यूट्यूब चैनल से सुपरस्टार खेसारी लाल यादव और ऋतु सिंह अभिनीत भोजपुरी फिल्म ‘बाप जी’ का सबसे...

पीठ में छुरा घोंपने वाले शिवसैनिकों के ‘गुरु’ नहीं हो सकते : अनंत गीते 

मुंबई। शिवसेना नेता अनंत गीते ने शरद पवार पर हमला बोलते हुए कहा कि जिन्होंने अपनी पार्टी बनाने के लिए कांग्रेस की...

मां-बाप से ज्यादा दुनिया में कुछ भी नहीं : अखिलेश सिंह

मुंबई। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के पुलिस निरीक्षक अखिलेश सिंह ने कहा है कि आज मैं कपिल शर्मा का एक शो...

इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों ने किया हिंदी काव्य पाठ

मुंबई।  वसई के विद्यावर्धिनी कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलोजी के लिटरेरी क्लब ने हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में कवि सम्मेलन का ऑनलाइन...

पवई के विद्यार्थियों के फीस का मसला हुआ हल

आरपी आई की तरफ से पवई इंग्लिश स्कूल को दिए गए 5 लाख की आर्थिक मदद मुंबई। कोरोना महामारी...